भारत की प्रथम महिला फायर फाइटर कौन है?/bhaarat kee pratham mahila phaayar phaitar kaun hai?

bhaarat kee pratham mahila phaayar phaitar kaun hai:नमस्कार दोस्तों हमारे वेबसाइट पर आप लोगों का बहुत-बहुत स्वागत है आज हम आप लोगों को बताने वाले हैं कि भारत की प्रथम महिला फायर फाइटर कौन है इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले और आप लोगों को बताने वाले हैं हर्षिनी कान्हेकर का जीवन परिचय भी आप लोगों को बताने वाले और आप लोगों को बताने वाले कि फायर फाइटर किन्हे कहा जाता है फायरमैन में हाइट कितनी होनी चाहिए भारत की पहली महिला फायर फाइटर कौन है और फायर फाइटर का कार्य क्या होता है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं और लोगों को बताने वाले हैं यह फायरमैन कैसे बनते हैं फायरमैन कोर्स कितने दिन का होता है और फायर सर्विस ट्रेनिंग कैसे दी जाती है फायरमैन में दौड़ कितनी है और फायरमैन का एग्जाम कब होता है इसके बारे में भी आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले तो आप लोगों को बता दें कि अगर आप लोग फायर महिला फायर फाइटर कौन है इसके बारे में अगर आप लोग पूरी डिटेल जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप लोग नीचे पोस्ट के माध्यम से और लिस्ट के माध्यम से बहुत ही आसानी से इंफॉर्मेशन प्राप्त कर सकते हैं और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि भारत की पहली महिला फाइटर हर्षिनी कान्हेकर से पुरुषों के क्षेत्र में कदम रखकर हर्षिनी कान्हेकर इतिहास रचा है बल्कि कई लड़की भी प्रेरणा भी बनी है

Table of Contents

Harshini Kanhekar Biography in Hindi | हर्षिनी कान्हेकर का जीवन परिचय

जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं हर शनि का ने कार का जीवन परिचय आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले किन का जन्म कब हुआ था तो आप लोगों को बता दें कि हर्षिनी कान्हेकर जी का जन्म और पालन-पोषण नागपुर महाराष्ट्र भारत में हुआ था उन्होंने cdo-meri स्कूल नासिक में पढ़ाई की और बाद में उन्होंने महिला अमृता भाई दगा काले से विज्ञान में स्नातक की पढ़ाई पूरी की हर्षिनी जी के बारे में आप लोगों को बताया गया तो आप लोगों को बता दें कि इन का रियल नेम क्या है इनका निक नेम क्या है प्रोफेशन क्या है तो आप लोगों को बता दें कि इनकी पसंद फायर फाइटर है और इनका निकनेम हसनी ही है और आप लोगों को बता दें कि इन्होंने एजुकेशन की बात करें तो उन्होंने बैचलर इन साइंस एमबीए फायर इंजीनियरिंग कोर्स कंप्लीट कर ली है और यह हिंदू जात की है और आप लोगों को बता दें कि मुंबई में रहती हैं और इनकी शादी भी हो चुकी है और आप लोगों बता दें कि इन के हस्बैंड का नाम Pranish Urankar जी है और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दे क्या करण की स्कूल की बात करें तो उन्होंने सीडीओ मेरी हाई स्कूल नासिक से पढ़ाई की है और इनकी अगर कालेज की बात करें तो आप लोगों को बता दें Lady Amritabai Daga College and National fire service college, Nagpur. से कंप्लीट किया है

NameHarshini Kanhekar
Real NameHarshini Kanhekar
NicknameHarshini
ProfessionFire Fighter
ReligionHindu
EducationalQualification Bachelors in Science, MBA, Fire Engineering Course
Current CityMumbai, Maharashtra
Husband NamePranish Urankar
MarriedYes
NationalityIndian
HometownNagpur, Maharashtra, India
HobbiesReading Books, Social Service
CollegeLady Amritabai Daga College and National fire service college, Nagpur.
SchoolCDO MERI High School, Nashik
bhaarat kee pratham mahila phaayar phaitar kaun hai?

जानकारी दे देने वाले हैं आप लोगों को बताने वाले हैं कि हर्षिनी कान्हेकर काम है कार का ने कार्य का जीवन परिचय के बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि 3:30 साल के कोर्स में इन्होंने 1 दिन भी छुट्टी नहीं ली थी और ना कभी लेटी हुई थी और इन्हें किसी तरह की पनिशमेंट भी नहीं मिली एनसीसी बैकग्राउंड होने के कारण इनका फार्मर एस्से बहुत अच्छा था कई लोगों ने चाहा भी की कॉलेज छोड़ कर चली जाए लेकिन उन्होंने ठान लिया कि यह कोर्स तो मैं करके रहूंगी

फायर फाइटर किन्हें कहा जाता है?

फायर फाइटर किन्हे कहा जाता है इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले तो आप लोगों को बता देंगे दमा के लकार में उन बचाओ कर्मचारियों को कहा जाता है जो किसी स्थान पर लगी हानिकारक आग पर नियंत्रण पाने उसे बुझाने और उससे लोगों और संपत को बचाने का काम करते हैं उन्हें फायर फाइटर का आ जाता है और आप लोगों को बता दें फायर फाइटर कई प्रकार के होते हैं

  • पहला फायर फाइटर जनरल फायर कोयला कपड़ा और काजल की आग इस श्रेणी में आती है
  • दूसरा पेट्रोल की आंखें और तेल की आज डीजल श्रेणी में आते हैं
  • रासायनिक एवं बिजली आग शार्ट सर्किट और बिजली से लगी आग इसे श्रेणी में आते हैं
  • धातु आगे किसी भी धातु में लगी आग इस श्रेणी में आते हैं

तो जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं कि फायर फाइटर किन्हे कहा जाता है और यह कितने प्रकार के होते तो आप लोगों को बता देंगे धातु आगे किसी भी दांत में लगता लग सकते हैं और रासायनिक एवं बिजली आग शार्ट सर्किट और बिजली में आग लगाई जा सकती है हालांकि पहला फायर फाइटर जनरल है कोयला कपड़ा और कागज के काजल के आगे इस श्रेणी में आते हैं हालांकि आप लोगों को बता दें कि अगर आलोक फायर फाइटर किन्हें कहा जाता है इन की पूरी डिटेल जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप लोग उपरोक्त पोस्ट के माध्यम से बहुत ही आसानी से इंफॉर्मेशन प्राप्त कर सकते हैं

फायरमैन में हाइट कितनी चाहिए?

फायरमैन में हाइट कितनी होनी चाहिए इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले तो आप लोगों को बता दें कि जो फायरमैन होते हैं उनकी हाइट बिना जूतों के फायरमैन पदों के लिए ऊंचाई 165 सेमी होनी चाहिए इसमें अनुसूचित जनजाति के सदस्यों को 2 पॉइंट 5 सेंटीमीटर की छूट दी जाती है शरीर का वजन 48 से 50 किलोग्राम तक होना चाहिए बिना बुलाए छाती का आकार 81.5 सेंटीमीटर और बुलाने पर 50 सेमी से ज्यादा होना चाहिए और जानकारी के लिए आप लोगों को बता देंगे जो फायरमैन की हाइट होती है और शारीरिक स्वास्थ्य मानक फायरमैन यह के लिए निम्नलिखित शारीरिक फिटनेस मानदंड निर्धारित है कोई विकृति नहीं है अन्य बातों के साथ धनुष पैर घुटने या फ्लैट पर एक योग्यता होगी ऊंचाई होनी चाहिए 165 से मी न्यूनतम और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि फायर मैन बनने के लिए क्या करना चाहिए परंतु अधिकांश राज्यों में 10वीं या 12वीं कक्षा उतरे छात्र फायरमैन बनने के लिए आवेदन कर सकते हैं कुछ राज्यों में दसवीं और बारहवीं कक्षा के अलावा फायर सेफ्टी फायर मैनेजमेंट या फायरमैन के क्षेत्र में सर्टिफिकेट डिप्लोमा कोर्स बिहार का हिस्सा हो सकता है x तो जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं कि फायरमैन का कोर्स कैसा होता है इस कोर्स को करने के लिए न्यूनतम योग्यता 12 होना चाहिए हालांकि आप लोगों को बता दें वह भी साइंस स्ट्रीम से इस कोर्स की अवधि 3 वर्ष होती है और फायरमैन के लिए योग्यता भी चाहिए असिस्टेंट फायर अफसर के पदों के लिए कैंडीडेट्स के पास ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए

bhaarat kee pratham mahila phaayar phaitar kaun hai?

भारत की पहली महिला फायर फाइटर कौन है?

भारत की पहली महिला फायर फाइटर कौन है इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले तो आप लोगों को बता दें कि भारत की पहली महिला फायर फाइटर हर्षिनी कान्हेकर हैं हर्षिनी कान्हेकर का जन्म और पालन-पोषण नागपुर महाराष्ट्र भारत में हुआ था इन्होंने सी डी ओ मैरी स्कूल नासिक में पढ़ाई की और बाद में उन्होंने महिला अमृता भाई दगा काले से विज्ञान में स्नातक की पढ़ाई पूरी की वहां अपने स्कूल के दिनों राष्ट्रव्यापी कैडेट कोर में हिस्सा लिया करती थी और उन्होंने कई प्रतिक्रिया ताऊ में भाग भी लिया था पढ़ाई करने के बाद इन्होंने एमबीए कोर्स ज्वाइन किया और आप लोगों को बता दें कि उन्होंने बचपन से ही इनका सपना था वर्दी पहनना चाहती थी और इन्होंने फायर इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए आवेदन किया था उसे पसंद करने के लिए एक नाम मिलेगा हर्ष ने नागपुर स्थित राष्ट्रव्यापी चूल्हा सेवा कालेज में प्रवेश पाने वाली पहली महिला हैं और भारत में फायर फाइटर बनने वाली पहली लड़की है उन्होंने 2006 में गुजरात में फायर फाइटर स्टेशन में शामिल हुई जो देशभर में दूसरी सबसे बड़ी आंसर एंड फ्यूल कंपनी है एक कुशल भाई का भी है जिसने क्रिसमस पर अपने भाई का दोस्त प्रिंस उड़ा दी कि उन्होंने ले लद्दाख और कारगिल में दुनिया की सबसे ऊंची मोटर योग्य सड़क खारदुंग ला क्रश की यात्रा की

Name Harshini Kanhekar
Real Name Harshini Kanhekar
NicknameHarshini
ProfessionFire Fighter
Religion Hindu
Educational Qualification Bachelors in Science, MBA, Fire Engineering Course
Current City Mumbai, Maharashtra
Husband Name Pranish Urankar
Married Yes
Nationality Indian
Hometown Nagpur, Maharashtra, India
Hobbies Reading Books, Social Service
College Lady Amritabai Daga College and National fire service college, Nagpur.
School CDO MERI High School, Nashik
bhaarat kee pratham mahila phaayar phaitar kaun hai?

जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें दोस्तों कहीं अलग अलग प्रकार की परीक्षाओं में अंतर्गत प्रथम भारत की महिला फायर फाइटर कौन है यह संबंधित सवाल भी पूछे जाते हैं वहां पर अनेक छात्रों इस सवाल के बारे में नहीं जानते हैं यह दोस्तों आपको भी इस विषय के बारे में कोई जानकारी नहीं है तो आपको आज हम इस के जानकारी के बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं तो भारत की पहली महिला फाइटर फायर फाइटर का नाम हर्षिनी कान्हेकर है जिन्होंने फायर फाइटर एक बहुत ही मुश्किल है जब मानी जाती है तथा इसको करने के लिए किसी भी व्यक्ति के अंतर्गत काफी हिम्मत होना जरूरी होता है और आप लोगों को बता दें कि भारत की पहली महिला फायर फाइटर बनकर इतिहास रच दिया है इन्होंने तथा इससे महिलाओं को आगे बढ़ने के काफी प्रेरणा भी मिलती है

फायर फाइटर का क्या कार्य होता है?

फायर फाइटर का कार्य क्या होता है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं तो आप लोगों को बता देंगे फायर फाइटर का अंतर्गत अलग-अलग कर्मचारियों का अलग-अलग टीम बनाई जाती है तथा एक टीम के अंतर्गत एक पिक सरिया आता है तथा उसे एरिया अंतर्गत यदि कोई भी आग लग जाती है तो उसको बुझाने का कार्य उस फायर फाइटर को कर्मचारियों टीम के द्वारा किया जाता है इसके अंतर्गत सभी कर्मचारियों को अलग-अलग प्रकार का हथियार का सुविधा भी दिया जाता है उनकी आग बुझाने में काफी सहायता करने में उन्हें मदद मिले जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि फायरमैन या फायर फाइटर ए फायर ऑपरेटर वादक तो होते हैं कहीं पर आग लगने की स्थिति में मुख्यत आग बुझाने और आग में फंसे लोगों को निकालने में सहायता करने में कोई काम करते हैं हालांकि आप लोगों को बता दें कि इस कोर्स को करने के लिए न्यूनतम योग्यता 12 होना चाहिए और वह भी साइंस स्ट्रीम का कोर्स की अवधि 3 वर्ष की होती है और आप लोगों को बता दें कि अगर आपको फायर बिग्रेड में जॉब करना है तो आपको इसके लिए फायर फाइटर का कोर्स करना जरूरी है इसके लिए आप किसी भी एक बड़े कॉलेज से फायर फाइटर का कोर्स कर सकते हैं कोर्स करने के बाद आपको इस में जॉब पाने के लिए अप्लाई करना होगा अप्लाई करने के बाद आपको सबसे पहले इसकी एग्जाम को देना होगा

फायरमैन कैसे बनते हैं?

फायरमैन कैसे बनते हैं इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि यह आपके स्थानीय समुदाय के साथ सहयोग करते हैं ताकि उनमें भी आग ने सुरक्षा के बारे में जागरूकता को बढ़ाया जा सके इसके अलावा वह लोग भी सार्वजनिक एवं वाणिज्य के परिसरों में अभ्यास करते हैं और प्रशिक्षण एक आयोजित करके आगे अग्नि सुरक्षा मानदंडों को बढ़ावा देने के लिए भी जिम्मेदार हैं हालांकि आप लोगों को बता दें कि कैसे बनते हैं फायर फाइटर तो अग्निशामक है यानि कि एक फायर फाइटर बनने की इच्छा रखने वाले उम्मीदवारों को हाई स्कूल डिप्लोमा और वैकल्पिक चिकित्सा सेवाओं के लिए प्रशिक्षण प्राप्त कर के करियर की शुरुआत करनी चाहिए साथ उन्हें भारत में कई अग्निशमन संस्थानों द्वारा प्रदान किए गए आपातकालीन चिकित्सा विशेषज्ञ प्रमाणन होना आवश्यक है और आप लोगों को बता दें कि फायर फाइटर बनने के लिए शैक्षिक योग्यता कितनी होनी चाहिए इसके बारे में अगर बात करें तो उम्मीदवारों के पास कम से कम हाई स्कूल सर्टिफिकेट होना चाहिए और साथ आपातकालीन चिकित्सा सेवाओं से प्रशिक्षण या आपातकालीन चिकित्सा तकनीक की बुनियादी आवश्यकता होगी आवश्यकता है स्थानीय राज्य क्षेत्र के अनुसार भिन्न होती है उम्मीदवारों को एक ऊंचे राष्ट्रीय डिप्लोमा प्रमाण पत्र रखने की आवश्यकता होती है जिसके लिए कॉलेजों में उम्मीदवारों के लिए फायर इंजीनियरिंग अग्नि सुरक्षा और जोखिम प्रबंधन और विस्फोट जैसे अन्य संबंधित पाठ्यक्रम होते हैं उम्मीदवारों एवं उनके लिए प्रबंध पाठ्यक्रम में यूजी डिग्री प्राप्त होता है और फायर फाइटर की नौकरियां में भर्ती के लिए राज्य प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं

फायरमैन कोर्स कितने दिन का होता है?

फायरमैन कोर्स कितने दिन का होता है इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि इस कोर्स को करने के लिए न्यूनतम योग्यता बारह होना चाहिए आवश्यक होता है वह भी साइंस स्ट्रीम कोर्स की अवधि 3 वर्ष की होती है या एमबी अभी आप लोग कर सकते हैं हालांकि आप लोगों को बता दें कि इन सभी पदों पर कार्य करने के लिए एक विशेष कोर्स की दरकार होती है जिसे सेफ्टी मैनेजमेंट कहा जाता है पाठ्यक्रम के दौरान छात्रों को उन सभी बारीकियों से अवगत कराएं करवाया जाता है जिससे वह हर खतरे से दृढ़ता पूर्वक सामना कर सकें जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि फायर बिग्रेड का काम क्या होता है तो जब भी कहीं आग लग जाती है तो फायर बिग्रेड को फोन किया जाता है ज्यादातर आज गर्मियों के मौसम में लगती है तो लोग तुरंत ही फायर बिग्रेड को फोन करके फायर बिग्रेड वाले आते हैं और आग बुझाते हैं

फायर सर्विस ट्रेनिंग कैसे दी जाती है?

फायर सर्विस ट्रेनिंग कैसे दी जाती है इसके बारे में आज हम आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि एक फायर फाइटर की नौकरी के लिए योग्यता कम से कम 12 परीक्षा पूरी करने की आवश्यकता होती है जो अधिकतर फायर फाइटर कार्य प्राप्त कर सकते हैं इसके अलावा उम्मीदवार के पास डिप्लोमा या डिग्री भी होनी चाहिए इसके अलावा लिखित और फिजिकल टेस्ट भी होते हैं उन्हें उम्मीदवार के पास करना होता है

  • छात्रावास की सुविधा
  • प्रशिक्षण के लिए बड़ी जगह
  • सुसज्जित लाइव
  • इंटरनेशनल प्रमाणित सर्टिफिकेट
  • अनुभवी ऑफिसर्स के द्वारा मार्गदर्शन
  • प्रशिक्षण के लिए बहुत ही अनुभवी फायर सेफ्टी अफसर
  • हमारे पास प्रशिक्षण के लिए खुद का फायर बिग्रेड है

फायर सर्विस की ट्रेनिंग कैसे दी जाती है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं तो आप लोगों को बताना कि फायरमैन का काम क्या होता है तो हालांकि जो फायरमैन होते हैं आप फायर फाइटर होते हैं उनका यही काम होता है कि आग लगने की स्थिति में मुख्यता आग बुझाने और आग में फंसे लोगों को निकालने में सहायता करने में काम करते हैं और अग्नि समय के को आग पर काबू पाने और बुझाने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है आग को फैलने से रोकने के लिए अग्निशामक को जल्दी और एक टीम के रूप में काम करना चाहिए वह हो जो रंगने हाइड्रेंट से जोड़ते हैं और आग को नियंत्रित करने में मदद करने के लिए खोज को सकते देने के लिए पंप संचालित करते हैं उन्हें जल्दी इमारतों के अंदर फंसे लोगों को बचाने की आवश्यकता भी होती है

फायरमैन में दौड़ कितनी है?

फायरमैन में दौड़ कितनी होती है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि वाह उम्मीदवार इसका एडमिट कार्ड है बिहार पुलिस फायरमैन परीक्षा कब होगा इसके बारे में अगर बात करें तो आप लोगों को बता दें कि वह उम्मीदवार इसका एडमिट कार्ड की ऑफिशियल वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं और बिहार पुलिस फायरमैन एडमिट कार्ड 2022 की ऑफिशियल वेबसाइट पर 12 अगस्त 2022 को जारी किया गया है क्योंकि इसकी परीक्षा 28 अगस्त 2022 को होने वाली है

फायरमैन का एग्जाम कब होगा 2022

फायरमैन का एग्जाम कब होता है इसके बारे में अगर बात करें तो आप लोगों को बता दें कि नोटिफिकेशन के अनुसार फायरमैन एडमिट कार्ड 16 अगस्त 2022 को मंगलवार शारीरिक दक्षता परीक्षा और शारीरिक के मानस परीक्षा में पीएचडी के लिए उपलब्ध होगा पेट पीएसटी 26 अगस्त से 10 अक्टूबर 2022 तक आयोजित होने वाली सीआईएसफ फायरमैन शारीरिक परीक्षा देश भर में 41 केंद्रों पर आयोजित की गई है

बिहार फायरमैन का एग्जाम 2022 में कब हुआ है

जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं कि बिहार फायरमैन का एग्जाम 2022 में कब हुआ है इसके बारे में आप लोगों की अगर बात करें तो आप लोगों को बता दें कि बिहार फायरमैन सप्लीमेंट्री परीक्षा 28 अगस्त 2022 रविवार को आयोजित की गई थी उम्मीदवार बोर्ड का अधिकारी के वेबसाइट पर जाकर अपना एडमिट कार्ड भी डाउनलोड कर सकते हैं हालांकि आप लोगों को बता दें कि फायरमैन भर्ती परीक्षा 27 और 28 मार्च 2022 को पूरे बिहार में हुई थी परीक्षा में करीब 497072 कैंडिडेट शामिल हुए थे फिजिकल एग्जाम के लिए 11091 कैंडिडेट क्वालीफाई भी हुए थे और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि फायरमैन एडमिट कार्ड कैसे डाउनलोड कर सकते हैं तो आप लोगों को फायरमैन कांस्टेबल प्रवेश पत्र अधिकारी वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं सबसे पहले उम्मीदवार को सीआईएसफ की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा और होम पेज पर नोटिस बोर्ड जंक्शन पर जाएं यहां आप लोगों को एडमिट कार्ड का लिंक भी मिल जाएगा और वहां पर क्लिक करके बहुत ही आसानी से आप लोग अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं

फायरमैन बच्चों के लिए क्या करता है

फायरमैन बच्चों के लिए क्या करते हैं इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले तो आप लोगों को बता दें कि जो फायरमैन होते हैं आप को फैलने से रोकते हैं और अग्नि शाम को को जल्दी और एक टीम के रूप में काम करते हैं और वह आग को नियंत्रित करने में मदद करने के लिए खोज को चेक दे देने के लिए पंप संचालित करते हैं उन्हें जल्दी इमारतों के अंदर फंसे लोगों को बचाने की भी आवश्यकता होती है और आप लोगों को बता दें कि फायरमैन का डिप्लोमा कितने साल का होता है तुझे फायरमैन का डिप्लोमा किया जाता है जो 1 साल का कोर्स होता है और इसके बाद 3 महीने की ट्रेनिंग भी होती है और अगर आप ऑनलाइन फायर एंड सेफ्टी कोर्स से करते हैं तो पढ़ाई वीडियो कोर्स मैटेरियल और प्रोजेक्ट आई सीमेंट के माध्यम से भी किया जाता है और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि जो फायरमैन होते हैं उनकी हाइट बिना जूतों के फायरमैन पदों के लिए ऊंचाई 165 सेंटीमीटर होनी चाहिए इसमें अनुसूचित जनजाति के सदस्यों के 2 पदों दशमलव 5 सेंटीमीटर की छूट भी दी जाती है शारीरिक वजन 48 से 50 किलोग्राम तक होना चाहिए

bhaarat kee pratham mahila phaayar phaitar kaun hai?

फायरमैन को क्या मजबूत बनाता है

फायरमैन को क्या मजबूत बनाता है इसके बारे में आप लोगों को बता दें तो आप लोगों को बता दें कि जो टीम होता है टीम में ईमानदारी और विश्वास जरूरी है आपको अपने साथी फायर फाइटर पर भरोसा करने में सक्षम होना चाहिए अपनी नौकरी जानने के लिए उन पर भरोसा करें उन पर अपनी पीठ थपथपा ने के लिए भरोसा करें अपने राशियों को रखने के लिए उन पर भी भरोसा करना चाहिए अपनी सुरक्षा और यहां तक कि अपने जीवन के लिए उन पर भरोसा करें फायरमैन बनने के लिए कितनी हाइट चाहिए क्या-क्या करना चाहिए इसके बारे में आप लोगों को बता दे तो आप लोगों को बता देंगे जो फायरमैन होते हैं उन्हें बनने के लिए आप लोगों को उम्मीदवारों को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से दसवीं कक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए इसके साथ ही उम्मीदवार को सभी प्रकार का फायर अप लाइसेंस वागरण फायर इंजन ट्रेलर पंप फ्रॉम ब्रांच ऐसे चलाने में सक्षम होना चाहिए

निष्कर्ष

जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि उपरोक्त पोस्ट और लिस्ट के माध्यम से हम आप लोगों को यही जानकारी प्रदान किए हैं कि भारत के प्रथम महिला फार्म फाइटर कौन है और हर्ष नेकाने कार का जीवन परिचय क्या है इसके बारे में आप लोगों को बताया गया और आप लोगों को बताया गया है कि फायर फाइटर किन्हे कहा जाता है फायरमैन हाइट कितनी होनी चाहिए तो आप लोगों को बता दें कि भारत की पहली महिला फायर फाइटर कौन है उनका जीवन परिचय भी आप लोगों को दिया गया और फायर फाइटर का कार्य क्या होता है और फायरमैन कैसे बनते हैं फायरमैन कोर्स कितने दिन का होता है और फायर सर्विस ट्रेनिंग कैसे दी जाती है और फायरमैन में दौड़ कितनी होती है और फायरमैन का एग्जाम कब होगा 2022 में इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी दिया गया तो आप लोगों को बता दें कि हम आप लोगों को जो भी जानकारी दिए हैं इंटरनेट के माध्यम से दी हैं हम आप लोगों को कोई गलत इंफॉर्मेशन नहीं देते हैं और आप लोगों को बता दें कि फायरमैन कोर्स कितने दिन का होता है तो इस कोर्स को करने के लिए न्यूनतम योग्यता 12 होनी चाहिए आवश्यकता होता है कि वह भी साइंस स्ट्रीम कोर्स की अवधि 3 वर्ष की होनी चाहिए और आप लोगों को बताया गया कि फायरमैन कैसे बनते हैं तो इसकी पूरी डिटेल जानकारी प्राप्त करने के लिए आप लोग उपरोक्त पोस्ट और लिस्ट के माध्यम से बहुत ही आसानी से इंफॉर्मेशन प्राप्त कर सकते हैं

फायरमैन कोर्स कितने दिन का होता है?

फायरमैन का कोर्स 3 वर्ष का होता है

भारत के प्रथम महिला फायरमैन कौन है

भारत के प्रथम महिला फायरमैन अंजलि मीना है

फायरमैन मजबूत क्यों बनता है

क्योंकि उसे आग के साथ समय व्यतीत करना पड़ता है

फायरमैन की नौकरी के लिए कितना किलोमीटर दौड़ना पड़ता है

फायरमैन की नौकरी के लिए लगभग 5 किलोमीटर दौड़ना पड़ता है

फायरमैन की गाड़ी का रंग कौन सा होता है

फायरमैन की गाड़ी का रंग लाल होता है

Sharing Is Caring:

Leave a Comment