लस्सी रेसिपी बनाने की विधि/Lassee resipee banaane kee vidhi

लस्सी रेसिपी बनाने की विधि: नमस्कार दोस्तों हमारे वेबसाइट पर आप लोगों का बहुत-बहुत स्वागत है आज हम आप लोगों को बताने वाले हैं लस्सी रेसिपी बनाने की विधि कैसे है वैसे आप लोग कैसे बना सकते हैं और छाछ का तासीर क्या है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं लस्सी में क्या क्या लगाता है और लस्सी कितने प्रकार के होते हैं इसके बारे में भी आप लोगों को बताने वाले हैं लस्सी पीने से क्या-क्या फायदा होता है लस्सी पीने के क्या-क्या नुकसान होते हैं दही और लस्सी में क्या अंतर है लस्सी के साथ क्या नहीं खाना चाहिए मीठी लस्सी का स्वाद कैसे लगता है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं जानकारी के लिए बता दें कि लस्सी बनाने में क्या-क्या लगता है इसमें बहुत सारे सामान लगते हैं और आप लोगों को बता दें कि लक्ष्य कितने प्रकार के दो प्रकार के होते हैं एक मीठी नमकीन लस्सी और आप लोगों को बताया गया कि लस्सी पीने से क्या क्या फायदे होते हैं तो अगर आप लोग लस्सी पीते हैं तो इससे हड्डियां मजबूत रहती है और इसके सेवन से त्वचा और बालों को एसिडिटी भी बहुत फायदेमंद होता है ताजे दही से बनने से शरीर में सभी आवश्यक पोषक तत्व में देता है और पोटेशियम कैल्शियम प्रोटीन पाया जाता है और आप लोगों को बताया गया कि पीने के क्या नुकसान है तो अगर आप लोग डायबिटीज के मरीज हैं तो ज्यादा लस्सी का सेवन नहीं करना चाहिए और दही और नशे में क्या क्या अंतर होता है मीठी लस्सी का स्वाद कैसा होता है और में क्या अंतर होता है इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी दिया गया है तो आप लोगों को बता दें कि अगर आप बनाने की विधि जानना चाहते हैं

Table of Contents

छाछ की तासीर क्या है?/What is the effect of buttermilk?

छाछ का तासीर क्या है इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि छाछ का तस्वीर है ठंडी होती है बुखार में ठंडी और खट्टी चीजों को खाने के लिए मना किया जाता है इस स्थिति में इसका सेवन करना हानिकारक हो जाता है इसलिए बुखार में इसका सेवन नहीं करना चाहिए यह डॉक्टर सलाह देते हैं और आप लोगों को बता दें कि जांच कब पीना चाहिए अगर आप लोग छाछ पीना चाहते हैं तो छात्र कोलेस्ट्रॉल को घटाने में प्राकृतिक औषधि का कार्य करता है इसके नियमित सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल में रहता है छाछ पीने से शरीर में पानी की कमी दूर होती है या एसिडिटी और पेट की जलन को दूर करता है पेशाब में दर्द हो तो छाछ पीने से आराम मिलता है जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि जो छाछ का तासीर होता है या ठंडी होती है और गर्मियों में इसे पीने से सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है लेकिन कई समस्याओं या बीमारियों से पीड़ित लोगों को लिए या नुकसानदायक भी हो सकता है

लस्सी में क्या क्या लगता है?/What do you think in Lassi?

लस्सी बनाने में क्या-क्या लगता है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि अच्छे स्वाद के लिए आप लोग घर पर ही दही का उपयोग करके लस्सी बना सकते हैं और लस्सी पीने के बहुत सारे फायदे भी हो सकते हैं लस्सी के सेवन से त्वचा के लिए बालों के लिए एसिडिटी में कब्ज दूर करने के लिए वजन कम करने के लिए और हड्डियों को मजबूत करने में फायदेमंद होती है और ताजे दही से लस्सी शरीर के सभी आवश्यक पोषक तत्व देती हैं दही में कैल्शियम पोटेशियम मैग्नीशियम और प्रोटीन पाया जाता है लेकिन लस्सी पीने के फायदे के साथ-साथ नुकसान भी होते हैं और आप लोगों को बता दें कि लस्सी में लस्सी बनाने में क्या-क्या लगता है इसकी पूरी इंफॉर्मेशन पाने के लिए आप लोग नीचे लिस्ट के माध्यम से बहुत ही आसानी से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं

  • एक गहरे बर्तन या पिछले में दो कप दही ले
  • उसमें 3 टेबलस्पून चीनी और 1.4 टीस्पून इलायची का पाउडर डालें
  • उसे हैंड बेटर या बृजेश के यहां मखनिया हैंड ब्लेंडर से मुलायम होने तक फेंट लें
  • उसमें 1% दो का पानी या दूध डालें

जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं क्या क्या बनाने में क्या-क्या लगता है तो आप लोगों को बता दें कि लस्सी बनाने में एक पिछले दो कहीं लेना होगा और उसमें तेल चीनी और एक दही का पाउडर डालकर उसे और उसमें एक दो या पानी का दूध डाल दे दो कब का और आप लोग बहुत ही आसानी से तैयार कर सकते हैं और लस्सी बनाने में क्या-क्या लगता है इसकी डिटेल जानकारी प्राप्त करने के लिए आप लोग उपरोक्त लिस्ट के माध्यम से जान सकते हैं

लस्सी कितने प्रकार की होती है?/How many types of Lassi are there?

तो जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं कि लस्सी कितने प्रकार के होते हैं इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि लस्सी मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं मिठाई और नमकीन लस्सी और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि लक्ष्य के पारंपरिक दक्षिण एशियाई है जो खासतौर पर उत्तर एवं पश्चिम भारत तथा पाकिस्तान में काफी लोकप्रिय है इसे दही के मत करें एवं पानी मिलाकर बनाया जाता है तथा इसमें ग्रुप से तरह-तरह के मसाले एवं चीनी और नमक डालकर तैयार किया जाता है

  • स्ट्रॉबेरी लस्सी
  • रोज लस्सी
  • मैंगो लस्सी
  • शादी लस्सी

जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि लस्सी विभिन्न प्रकार के लस्सी जैसे स्ट्रॉबेरी लस्सी होते हैं रोज लस्सी होते हैं और मैंगो लस्सी होते हैं शादी लस्सी होते हैं उपलब्ध हैं लेकिन लस्सी के मुक्ता दो ही प्रकार के होते हैं मिठाई और नमकीन लस्सी और आप लोगों को बता दें कि लस्सी आप लोगों को भी पीना चाहिए इससे बहुत सारे फायदे भी होते हैं और लस्सी कितने प्रकार के होते हैं इसे जानने के लिए आप लोग उपरोक्त लिस्ट के माध्यम से जान सकते हैं

लस्सी पीने से क्या फायदा होता है?/What is the benefit of drinking lassi?

तो जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं कि लस्सी पीने से क्या-क्या फायदे होते हैं तो यह विशेष रूप से वजन बढ़ाता भी है घटाता भी है लेकिन आप लोगों को बता दे क्या विशेष रूप से पेट पर जमा चर्बी को कम करने में भी मदद करता है लस्सी से मौजूद पोषक तत्व और खाली शरीर में एक स्वास्थ्य इलेक्ट्रोलाइट संतुलन बनाए रखने के लिए एक अविश्वसनीय तरीका है कम मसाले वाले दही वजन घटाने में मदद करते हैं और आपकी प्रतीक्षा में सुधार करने के लिए एक शानदार तरीका है और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि खाली पेट लस्सी pp7 जा सकता है क्योंकि दो-दो उत्पाद या दही को खाली पेट लेने से हाइड्रोक्लोरिक एसिड बनता है इससे एसिडिटी भी हो सकता है और आप लोगों को बताने वाले हैं कि एक बड़े बर्तन में दही और पानी डालकर अच्छी तरह खोलने पर इनमें नमक नहीं बोरासी डालकर मत ले लंबे गिलास में शरबत डालें और खूब सारा बर्फ डालकर इसका सेवन कर सकते हैं और लस्सी पीने से क्या क्या फायदे होते हैं यह जानकारी प्राप्त करने के लिए आप लोग नीचे लिस्ट के माध्यम से जान सकते हैं

  • लस्सी पीने से हड्डियां मजबूत रहती हैं
  • लस्सी के सेवन से कभी दूर रहता है
  • लस्सी के सेवन से वजन कम करता है
  • और लस्सी पीने से त्वचा के लिए और बालों के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है
  • लस्सी शरीर को सभी आवश्यक पोषक तत्व देता है

लस्सी पीने से क्या क्या फायदे होते हैं इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि लस्सी के सेवन से कब्ज दूर रहता है और वजन कम करता है और हड्डियां मजबूत करता है और इसके सेवन से त्वचा के लिए बालों के लिए एसिडिटी में भी बहुत ही फायदेमंद होती हैं ताजे दही से बनी लस्सी शरीर को सभी आवश्यक पोषक तत्व देता है दही में पोटेशियम मैग्नीशियम कैल्शियम और प्रोटीन पाया जाता है लेकिन लस्सी पीने के फायदे के साथ-साथ नुकसान भी बहुत सारे हैं

लस्सी पीने के क्या नुकसान है?/What are the disadvantages of drinking lassi?

लस्सी पीने के क्या-क्या नुकसान है इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले तो आप लोगों को बता दें कि लस्सी बनाने में चीनी का इस्तेमाल किया जाता है अगर आप डायबिटीज के मरीज है तो ज्यादा लस्सी का सेवन करने से आपके रोग बढ़ सकता है और छाछ में सोडियम की मात्रा बहुत अधिक होती है जो किडनी रोग से ग्रस्त लोगों के लिए इसका अधिक सेवन ठीक नहीं है अगर आप किडनी की बीमारी से पीड़ित है तो आप इसे पीने से बचें और आप लोगों को अगर किडनी में कोई भी परेशानी है तो आप लोगों को साथ नहीं पीना चाहिए

दही और लस्सी में क्या अंतर है?/What is the difference between curd and lassi?

दही और लस्सी में क्या अंतर है इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले तो आप लोगों को बता दें कि दही और लस्सी में क्या क्या अंतर है तो दूध को गर्म करके जमान लगा देते हैं कुछ घंटों में इस दूध को दही बन जाता है और इस दही में थोड़ा पानी डालकर दिलों माथे लेते हैं तब मक्खन निकलता है और पीछे लस्सी बचती है तो जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं कि मीठी लस्सी का स्वाद एक है मलाईदार मीठा दही जैसा होता है जिसके इलायची केसर और यह गुलाब जल का नोट होता है जो वैकल्पिक रूप से जोड़े जाते हैं एक ताजा आसान पिए बनाने के लिए दही को पानी चीनी और कुछ अन्य सामग्रियों के साथ मिलाया जाता है लस्सी के ऊपर आमतौर पर झाग दार होता है

लस्सी रेसिपी बनाने की विधि

लस्सी के साथ क्या नहीं खाना चाहिए/what not to eat with lassi

लस्सी के साथ क्या नहीं खाना चाहिए इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि आम से बनी कहीं रेसिपीज के बारे में सुना होगा जैसे और जानकारी के लिए आप लोगों को बताते हैं कि मैंगो दहिया मैंगो लस्सी यहां सब खाने में बहुत ही टेस्टी होते हैं मगर आपको इससे बचना चाहिए क्योंकि आम और दही दोनों की तासीर अलग-अलग होती है या शरीर में सर्दी पैदा भी कर सकता है और गर्मी भी उत्पन्न करते हैं जिससे त्वचा में बहुत सारी समस्याएं भी हो सकती है और या शरीर में डॉक्टर से बन सकते हैं और आप लोगों को बताने वाले हैं कि छाछ क्यों ना खाएं आम के साथ दही अगर आप खाने के साथ आम खाते हैं साथ में दही का सेवन ना करें आम और दही खाना कुछ लोगों को अच्छा लगता है लेकिन या कांबिनेशन स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं माना जाता है आम और दही को एक साथ खाने से शरीर में कार्बन डाइऑक्साइड ज्यादा बनने लगते हैं

मीठी लस्सी का स्वाद कैसा लगता है?/How does sweet lassi taste?

जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं कि मीठी लस्सी का स्वाद कैसे होता है तो लस्सी और दही दोनों ही विटामिन डी और लाइक टिकट से भरपूर हैं जिसकी वजह से पाचन शक्ति स्वास्थ्य बनी रहती है शरीर को स्वस्थ रहने के लिए विटामिन डी की बहुत ही अधिक जरूरत होती है जो लस्सी से मिल सकता है और आप लोगों को बता दें कि लस्सी पीने से हमारे शरीर में हमेशा इम्यूनिटी रहते हैं और बीमारियां से भी दूर रहते हैं और जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं कि क्या हम रात में भी मीठी लस्सी पी सकते हैं तो आप लोग भी सोचते होंगे तो इसकी ठंडक सर्दी के कारण जो शरीर के बलगम के उत्पादन को बढ़ा देती है रात में लस्सी पीने से सर्दी खांसी और जमाव भी हो सकता है बलगम अस्थमा जैसी सांस की स्थिति को खराब कर सकता है और सुस्ती शरीर में दर्द जमा और बुखार के कारण बन सकता है इसलिए आप लोगों को रात में लस्सी नहीं पीना चाहिए

लोग लस्सी क्यों पीते हैं?/Why do people drink lassi?

लोग लस्सी क्यों पीते हैं इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि लस्सी पीने से बहुत सारे फायदे होते हैं क्योंकि लस्सी पोषक तत्वों से भरपूर होता है साथ ही इस की तासीर ठंडी होती है इसलिए लस्सी का सेवन करने से हाइड्रेट रहता है साथ ही स्वास्थ्य संबंधी कई परेशानियां भी दूर होते हैं अगर आप दोपहर के खाने के बाद लस्सी पीते हैं तो शरीर सबसे अधिक में लाभ मिलता है इसके दोपहर खाने के बाद लस्सी पीना चाहिए और सुबह नाश्ते के बाद भी आप लस्सी पी सकते हैं लस्सी पीने के फायदे जाने के लिए आप लोग नीचे लिस्ट के माध्यम से जान सकते हैं

  • लस्सी वजन कम करने में मददगार मानी जाती है
  • लस्सी और दही दोनों ही विटामिन डी और लैक्टिक एसिड से भरपूर हैं
  • स्वास्थ्य रहने के लिए विटामिन डी की जरूरत होती है जो लस्सी से मिलता है
  • लस्सी शरीर को ठंडा भी रखता है
  • लस्सी में हाई प्रोटीन भी पाया जाता है
  • लस्सी दही से बनता है और दही लो फैट माना जाता है

लोग लस्सी क्यों पीते हैं इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि जो लोग लस्सी पीते हैं लस्सी वजन कम करने में भी मददगार मानी जाती है दरअसल लस्सी दही से बनती है और दही लो फैट माना जाता है इसके अलावा लस्सी में हाई प्रोटीन भी पाया जाता है जो शरीर के वजन को कंट्रोल रखता है जबकि लस्सी शरीर को ठंडा भी रखता है यही लस्सी है वजह है कि सभी को लस्सी पीने की सलाह दी जाती है और रोजाना लस्सी पीने से बहुत सारे फायदे भी होते हैं और नुकसान भी होता है लस्सी और दही दोनों ही विटामिन डी और लैक्टिक एसिड से भरपूर होते हैं जिसकी वजह से पाचन शक्ति स्वास्थ्य बनी रहती है शरीर में स्वस्थ रहने के लिए विटामिन डी की बहुत ही अधिक जरूरत होती है जो लस्सी से मिल सकता है आप लोगों को और लस्सी पीने से हमारे शरीर को इम्यूनिटी हमेशा मजबूत बना रहता है और लस्सी बीमारियों से भी हमें दूर करते हैं और लस्सी बनाने में चीनी का इस्तेमाल भी किया था अगर आप डायबिटीज के मरीज है तो ज्यादा नशे का सेवन आपके रोक को बढ़ा सकता है चार्ज में सोडियम की मात्रा भी बहुत अधिक होती है इसलिए आप लोगों को अगर किडनी रोग से ग्रस्त है तो लोगों से आप लोगों को इसका अधिक सेवन नहीं करना चाहिए अगर आप किडनी से बीमारी से पीड़ित है तो इसको पीने से बचें और लस्सी को अधिकतर आप लोग

लस्सी कब नहीं पीना चाहिए/When not to drink lassi

लस्सी कब पीना चाहिए इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि अगर आप लस्सी पीना चाहते हैं तो लस्सी पीने का सबसे अच्छा समय होता है दोपहर को माना जाता है दो बार के समय लस्सी पीने से आपके स्वास्थ्य को काफी लाभ होता है और डाइटिशियन बना बताते हैं कि हमेशा खाने के बाद लस्सी पीना चाहिए इसके अलावा आप ब्रेकफास्ट के साथ भी लस्सी का सेवन कर सकते हैं और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि मीठी लस्सी सेहत के लिए अच्छी भी होती है लस्सी को दहिया दही से बनाया जाता है इसलिए इसे हमारे पाचन तंत्र के लिए काफी फायदेमंद है माना जाता है या पेट पर हल्का होता है और इससे स्वास्थ्य बैक्टीरिया होते हैं जो हाथों को चिकनाई देते हैं और सुचारू पाचन में सहायता करते हैं पेट फूलने के लिए लस्सी एक स्वास्थ्य और प्राकृतिक उपचार है

लस्सी और छाछ में क्या अंतर है?/What is the difference between lassi and buttermilk?

लस्सी और छाछ में क्या अंतर होता है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं तो जो छाछ होता है साथ की तुलना में लस्सी काफी गाड़ी और मीठी भी होती है और 1 भोग वादी पिए से अधिक है वह दही के मरने से बने होते हैं और अन्य साधनों जैसे गुलाब सिरप आम केसर और खासकर साथ सबसे ऊपर होते हैं वह आमतौर पर मिले थे नेट से से सजाए होते हैं और जानकारी के लिए आप लोगों को बता देंगे दूसरी और लस्सी 4 से मोटी भी होती है इसमें वसा अधिक होती है और कैलोरी भी अधिक होती है क्योंकि यह स्वाद में मीठा होता है लस्सी और लस्सी को और स्वादिष्ट बनाने के लिए इसके ऊपर गुलाब का शरबत है केसर आम और खास डाला जाता है लस्सी छाछ से भरी होती है और आपके लंबे समय तक भरा हुआ महसूस करा सकती है

छाछ कौन से महीने में नहीं पीनी चाहिए?/In which month buttermilk should not be consumed?

छाछ कौन से महीने में पीना चाहिए इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं अपने इस पोस्ट के माध्यम से तो आप लोगों को बता दें कि क्या बरसात में भी छाछ पीना चाहिए बारिश में दही खाने से गले की समस्या और सर्दी जुखाम का खतरा बढ़ जाता है गर्मी में आप भले ही कितना अभी दही खाते हो लेकिन बारिश में दही और उस से बनी चीजों से और जैसे लस्सी छाछ और मट्ठा पीने से बचना चाहिए दरअसल बारिश में पाचन तंत्र काफी कमजोर भी हो जाता है और गर्मी में क्या छाछ पीना चाहिए तो आप लोगों को बता दें कि आयुर्वेद के अनुसार छाछ पीने से सेहत बने रहते हैं और कई बीमारियां भी दूर हो जाते हैं छाछ का बचाना आसान होता है और साथिया पाचन क्रिया में भी सुधार करने में काम करता है गर्मी में आमतौर पर लोग पेट फूलना पाचन में दिक्कत होता गैस्ट्रो भूख ना लगना जैसे पेट के चलते हैं जो छाछ के नियमित सेवन से दूर हो सकते हैं

लस्सी रेसिपी बनाने की विधि Video

निष्कर्ष/ Conclusion

जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि उपरोक्त पोस्ट डोर लिस्ट के माध्यम से हम आप लोगों को यह जानकारी प्रदान किए हैं कि लस्सी रेसिपी बनाने की विधि आप लोगों को बताया गया है और लस्सी में क्या-क्या लगता है इसके बनाने में और लस्सी कितने प्रकार के होते हैं तो आप लोगों को बता दें कि लस्सी बहुत सारे प्रकार के होते लेकिन मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं एक मीठी लस्सी और एक नमकीन लस्सी और आप लोगों को बताया गया कि लस्सी पीने से कौन-कौन से फायदे पीते हैं लस्सी के सेवन से कब्ज दूर रहता है और वजन कम करता है और हड्डियों मजबूत करता है इसके सेवन से त्वचा के लिए बालों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है और आप लोगों को बताया गया है कि लस्सी पीने के कौन-कौन से नुकसान होता है और तो आप लोगों को बता दे क्या करा लो ज्यादा लस्सी का सेवन करते हैं अगर आप लोग डायबिटीज के बीमारी हैं मरीज हैं तो आप लोग डायबिटीज के अगर मरीज है तो आप लोगों को ज्यादा नशे का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे रोग बढ़ जाता है और दही और लस्सी में क्या क्या अंतर होता है और लस्सी के साथ क्या-क्या नहीं खाना चाहिए इसके बारे में आप लोगों को बताया गया और लोग लस्सी ऐसी कब पीना चाहिए इसके बारे में आप लोगों को बताया गया और लस्सी और छाछ में क्या अंतर है चाचा और किस महीने में पिया जाता है इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी दिया गया है तो आप लोगों को बता दें कि हम आप लोगों को जो भी डाटा दे इंटरनेट के माध्यम से दिए हैं हम आप लोगों को कोई गलत इंफॉर्मेशन नहीं देते हैं और लस्सी के बारे में अगर आप लोग पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप लोग उपरोक्त लेटर पोस्ट के माध्यम से बहुत ही आसानी से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं

लस्सी कितने प्रकार की होती है?

 लस्सी के मुख्य दो प्रकार होते हैं – मीठी और नमकीन।

आम की लस्सी कितने समय तक फ्रिज में रहती है?

यह पेय फ्रिज में लगभग 1 से 2 दिन तक ठीक रहता है।

भारत में कौन सी लस्सी प्रसिद्ध है?

लस्सी वास्तव में दही है जिसे कुछ स्वादों के साथ मिलाया जाता है । यह पंजाब राज्य में सबसे लोकप्रिय है जहां इसका नियमित रूप से आनंद लिया जाता है।

क्या हम खाली पेट कच्ची लस्सी पी सकते हैं

किण्वित दूध उत्पाद या दही को खाली पेट लेने पर हाइड्रोक्लोरिक एसिड बनता है । इससे एसिडिटी हो सकती है।

Sharing Is Caring:

Leave a Comment