भारत में सबसे ज्यादा किस जाति के लोग रहते हैं? || Bhaarat mein sabase jyaada kis jaati ke log rahate hain||

भारत में सबसे ज्यादा किस जाति के लोग रहते हैं?: नमस्कार दोस्तों हमारे वेबसाइट पर आप लोगों का बहुत-बहुत स्वागत है आज हम आप लोगों को बताने वाले हैं कि भारत में सबसे ज्यादा किस जाति के लोग रहते हैं और भारत में सबसे ज्यादा किस जाति के लोग रहते हैं भारत में जातियों की कितनी संख्या होती हैं इसके बारे में आप लोगों को पूरी इंफॉर्मेशन देने वाले हैं अपने इस पोस्ट के माध्यम से आप लोगों को बताने वाले कि भारत में कौन सी जात कितने प्रतिशत है हिंदू में कौन सी जात सबसे ज्यादा हैं भारत की जातियों की संख्या कितनी है और भारत की सबसे पुरानी जाति कौन सी है उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा जनसंख्या किस जात के इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं और आप लोगों को बताने वाले हैं कि भारत में ओबीसी की संख्या कितनी है और जानकारी के लिए आप लोगों को बताया गया है कि यादव को कैसे काबू में रख सकते हैं सबसे पहले जाति कौन सी है और भारत के मूल निवासी कौन हैं और आदिवासी और मूल निवासी में क्या क्या अंतर है इसके बारे में भी आप लोगों को पूरी जानकारी दिया गया है तो आप लोगों को बता दें कि उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा जनसंख्या किस जाति की है तो उत्तर प्रदेश में अनुसूचित जाति की जनसंख्या सबसे अधिक है जबकि अनुसूचित जाति के लोगों की संख्या कुल जनसंख्या के 1% से भी कम है और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि भारत में कौन सी जात है जनसंख्या का अधिक है 1921 के आंकड़े एकत्रित करके जनगणना रिपोर्ट के पेज और अंकित किया गया था 19 जातियों का विवरण भी दिया गया था और आप लोगों को बताया गया कि भारत के सबसे पुरानी जाति कौन सी है तो भारत में बहुत सारे प्राणी जातियां हैं जैसे मनुस्मृति के अनुसार खास अन्य भारतीय जाट जैसे सनके कंबोज पहलवान पारा दे और आप जैसे प्राचीन क्षत्रिय थे जो संस्कार को त्याग करने के लिए क्षत्रिय और परिणत हुए मनुस्मृति में उन्हें भारतीय क्षत्रिय वंशज भी कहा गया था और आप लोगों को बता दें कि अगर आप लोग भारत में सबसे ज्यादा किस जाति के लोग रहते हैं तो भारत में सबसे ज्यादा हिंदू 80% रहते हैं तो आप लोग इसकी पूरी डिटेल जानकारी प्राप्त करने के लिए आप लोग नीचे पोस्ट और लिस्ट के माध्यम से बहुत ही आसानी से इंफॉर्मेशन प्राप्त कर सकते हैं

Table of Contents

भारत में सबसे ज्यादा किस जाति के लोग रहते हैं || Bhaarat mein sabase jyaada kis jaati ke log rahate hain

भारत में सबसे ज्यादा किस जाति के लोग रहते हैं तो आप लोगों को बता दें कि हिंदू 80 % रहते हैं और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि भारत विश्व में मुसलमानों की संख्या इंडोनेशिया और पाकिस्तान के बाद तीसरे स्थान पर है भारत में मुसलमानों की संख्या 13.4% है और अन्य धर्मावलंबियों में ईसाई 2.33 प्रतिशत हैं सिक्के 9 दशमलव 74% और बहुत जीरो दशमलव 76% जैन 0.40 प्रतिशत यहूदी फारसी हम भी और भाई आज सम्मिलित हैं जातिगत जनगणना के अभाव में यह पता लगाना मुश्किल है कि सरकार की नीति और योजनाओं का लाभ सही जाति तक ठीक से पहुंचे भी रहा है या नहीं वह आगे कहते हैं अनुसूचित जाति भारत की जनसंख्या में 15% और अनुसूचित जनजाति 7.5 फ़ीसदी हैं

भारत में जातियों की कितनी संख्या है? || Bhaarat mein jaatiyon kee kitanee sankhya hai

भारत में जातियों की कितनी संख्या है इसके बारे में आज हम आप लोगों को बताने वाले हैं तो देश में 1:00 30 जून 2011 को एक सामाजिक आर्थिक एवं जाति आधारित जनगणना प्रारंभ की गई थी जो गांव तथा शहर क्षेत्र में समाज आर्थिक विशेषताओं वाले परिवारों का पता लगाने के लिए भारत सरकार के वित्तीय और तकनीकी सहायता से संबंधित राज्य संघ राज्य क्षेत्र सरकारों द्वारा की गई थी और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि आजादी के बाद भारतीय संविधान में भी इस औपनिवेशिक के व्यवस्था को बनाए रखा गया इसके लिए संवैधानिक अनुसूचित जाति आदेश 1950 जारी किया गया जिसमें भारत के 29 राज्यों में 1108 जातियों के नाम शामिल किए गए थे

भारत में कौन सी जाति कितने प्रतिशत है || Bhaarat mein kaun see jaati kitane pratishat hai

भारत में कौन सी जात कितने प्रतिशत हैं इसके बारे में आज हम आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि भारत में हिंदू 80% है और मुसलमान 13.4% रहते हैं और आप लोगों को बता दें कि 0.76 प्रतिशत जैन रहते हैं और जो दुश्मनों 40% फारसी यहूदी रहते हैं और आप लोगों को बता दें कि कुछ जातियों की जनसंख्या जनगणना रिपोर्ट प्राप्त नहीं हुई और ना जिलों से प्राप्त हुई है लेकिन भारत सरकार द्वारा 1955 में गठित प्रथम पिछड़ा वर्ग आयोग ने उन जातियों की जनसंख्या की जानकारी मध्य भारत विंध्य प्रदेश भोपाल राज्य तथा पुराने मध्यप्रदेश के क्षेत्रों में दर्शाई है और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि 5.37 करोड़ अनुसूचित जन जातियों को अनुसूचित जाति के 1.8 करोड परिवार भूमि अन है और आदिवासियों के 7000000 यानी 35.2% हैं

हिंदू में कौन सी जाति सबसे ज्यादा है || Hindoo mein kaun see jaati sabase jyaada hai

हिंदू में कौन सी जाति सबसे ज्यादा है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि हिंदू धर्म भारत का सबसे बड़ा और मॉल धार्मिक है भारत की 1 या सी दशमलव 8% जनसंख्या किस धर्म के अनुयाई है और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि अधिकांश कास्ट कौन सी है तो अधिकांश अहिर उसकी उपजातियां अपने को यादव कहते हैं वह लिखते हैं सबसे ज्यादा यादव भी हैं

भारत में जातियों की संख्या || Bhaarat mein jaatiyon kee sankhya

भारत में जातियों की संख्या तो आप लोगों को बता दें कि आयोग ने 1921 की जनगणना के आंकड़े एकत्रित करते समय जनगणना रिपोर्ट 1921 वॉल्यूम 1 पार्ट में टेबल 15 पेज 149 पर अंकित से पाया कि 19 की जनगणना रिपोर्ट में संपूर्ण जातियों की जनसंख्या का विवरण दिया गया है बाद की जनगणना 1911 में कम जनसंख्या वाली जातियों को संख्या का उल्लेख नहीं किया तथा जनगणना 1921 में भी ऐसे ही हुआ था और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें आजादी के बाद भारतीय संविधान में इसे औपनिवेशिक की व्यवस्था को बनाए रखा इसके लिए समय देने के आदेश 1950 जारी किया गया जिसमें भारत के 29 राज्यों के 11 से 8 जातियों के नाम शामिल किए गए थे

भारत की सबसे पुरानी जाति कौन सी है || Bhaarat kee sabase puraanee jaati kaun see hai

भारत के सबसे पुरानी जाति कौन है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले तो आप लोगों को बता दें कि भारत में बहुत सारे पुरानी जातियां हैं जैसे की मनुस्मृति के अनुसार खास अन्य भारतीय जात जैसे सके कंबोज पहलवान पारा दे दा राधे आप जैसे ही प्राचीन क्षत्रिय थे जो संस्कार को त्याग करने से छत्रिय और मले चे में परिणत हुए मनुस्मृति में उन्हें भारतीय क्षत्रिय के वंशज कहां गया था प्राचीन खतों के बौद्ध धर्म धारण किया था और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि पहला समूह योद्धाओं का था और उन्हें राजन ने कहा जाता था बाद में उन्होंने इसका नाम बदलकर छत्रिय कर दिया दूसरा नाम पुजारियों का था और वह ब्राह्मण कहलाते थे इन दोनों समूह में आर्यों के बीच से नेतृत्व के लिए राजनीति के रूप से संघर्ष भी किया

उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा जनसंख्या किस जाति की है || Uttar pradesh mein sabase jyaada janasankhya kis jaati kee hai

उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा जनसंख्या किस जाति की है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले तो आप लोगों को बता दें कि उत्तर प्रदेश में अनुसूचित जाति की जनसंख्या सबसे अधिक है जबकि अनुसूचित जनजाति के लोगों को संख्या कुल जनसंख्या के 1% से भी कम है और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि भारत में कौन सी जात की जनसंख्या अधिक है तो आयोग ने 1921 के झरना के आंकड़े एकत्रित करके समय जनगणना रिपोर्ट 1921 के 15 पेज और 149 पर अंकित किया गया था कि उन्नीस सौ की जनगणना रिपोर्ट में संपूर्ण जातियों की जनसंख्या का विवरण दिया गया बाद में जनगणना 1911 में कम जनसंख्या वाली जातियों को संख्या का उल्लेख नहीं किया गया था तथा जनगणना 1921 में ऐसा ही हुआ था

भारत में OBC की जनसंख्या कितनी है | Bhaarat mein OBC kee janasankhya kitanee hai

भारत में ओबीसी की जनसंख्या कितनी है इसके बारे में आप लोगों को आज हम पूरी जानकारी देने वाले अपने इस पोस्ट के माध्यम से तो आप लोगों को बता दें जनगणना विभाग द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट को देखने के पता चलता है कि सन 1931 में अंतिम बार और तत्कालीन देसी रियासत ग्वालियर में सन 1941 में अंतिम बार जांच के आधार पर जनगणना की गई उसके पश्चात 1951 1961 1971 व 1981 में कई जनगणना अनुसूचित जाति एवं जनजाति को छोड़कर जनगणना की जात पर आधार पर नहीं हुई है और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि जातिगत जनगणना के अभाव में यह पता लगाना मुश्किल है कि सरकार के नेता और योजनाओं का लाभ सही जाते तक ठीक से पहुंच भी रहा है या नहीं वह आगे कहते हैं अनुसूचित जाति भारत की जनसंख्या में 15% हैं और अनुसूचित जनजाति 7.5 फ़ीसदी हैं हालांकि आप लोगों को बता दें गौर करने वाली बात है कि उत्तर प्रदेश में ओबीसी के तहत 234 जातियां आती हैं उत्तर प्रदेश पिछड़ा वर्ग सामाजिक न्याय समिति ने अपनी रिपोर्ट में 27% ओबीसी आरक्षण तो इनके लिए तीन भागों पिछड़ा वर्ग अति पिछड़ा और अति पिछड़ा में बांटने का सिफारिश की है]

भारत की प्रमुख जातियां | Bhaarat kee pramukh jaatiyaan

भारत के प्रमुख जातियां कौन-कौन है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं कि कौन से राज्य में कौन से जनजातियां है तो आप लोगों को बता दें कि तमिलनाडु में आप लोगों को देखने के लिए मिलेंगे तो डाका डाल एकला कोटडिया अरंधन को राग मां शेर कुरोमुकुरो मान देखने के लिए मिलेंगे और आप लोगों को बता दें कि उत्तर प्रदेश में जनजातियों की अगर बात करें तो इसमें आप लोगों को बुक्सा था रूम माहवीर खरवार थारो राजेश जौनसारी जी देखने के लिए मिलेंगे जो कि बहुत ही अच्छे जनजातीय हैं और आप लोगों को बताया गया कि गुजरात में आप लोगों को पथार्डी आलिया देखने के लिए मिलेंगे उत्तरांचल में भाटिया जौनसारी जनजाति या देखने के लिए मिलेंगे और भारत के प्रमुख जातियां और उनके राज्य में किस राज्य में कौन सी जनजाति है तो इसकी पूरी डिटेल जानकारी प्राप्त करने के लिए आप लोग नीचे टेबल के माध्यम से बहुत ही आसानी से इंफॉर्मेशन प्राप्त कर सकते हैं

राज्यजनजातियाँ
आंध्र प्रदेशचेन्चू, कोचा, गुड़ावा, जटापा, कोंडा डोरस, कोंडा कपूर, कोंडा रेड्डी, खोंड, सुगेलिस, लम्बाडिस, येलडिस, येरुकुलास, भील, गोंड, कोलम, प्रधान, बाल्मिक
तमिलनाडुटोडा, कडार, इकला, कोटा, अडयान, अरनदान, कुट्टनायक, कोराग, कुरिचियान, मासेर, कुरुम्बा, कुरुमान, मुथुवान, पनियां, थुलया, मलयाली, इरावल्लन, कनिक्कर, मन्नान, उरासिल, विशावन, ईरुला
उत्तर प्रदेशबुक्सा, थारू, माहगीर, शोर्का, खरवार, थारू, राजी, जॉनसारी
गुजरातकथोड़ी, सिद्दीस, कोलघा, कोटवलिया, पाधर, टोड़िया, बदाली, पटेलिया
उत्तरांचलभोटिया, जौनसारी, राजी
अरुणाचल प्रदेशअबोर, अक्का, अपटामिस, बर्मास, डफला, गालोंग, गोम्बा, काम्पती, खोभा, मिश्मी, सिगंपो, सिरडुकपेन
राजस्थानमीणा, भील, गरासिया, सहरिया, सांसी, दमोर, मेव, रावत, मेरात, कोली
उड़ीसाबैगा, बंजारा, बड़होर, चेंचू, गड़ाबा, गोंड, होस, जटायु, जुआंग, खरिया, कोल, खोंड, कोया, उरांव, संथाल, सआरा, मुन्डुप्पतू
असम व नागालैंडबोडो, डिमसा गारो, खासी, कुकी, मिजो, मिकिर, नागा, अबोर, डाफला, मिशमिस, अपतनिस, सिंधो, अंगामी
छत्तीसगढ़कोरकू, भील, बैगा, गोंड, अगरिया, भारिया, कोरबा, कोल, उरांव, प्रधान, नगेशिया, हल्वा, भतरा, माडिया, सहरिया, कमार, कंवर
पश्चिम बंगालहोस, कोरा, मुंडा, उरांव, भूमिज, संथाल, गेरो, लेप्चा, असुर, बैगा, बंजारा, भील, गोंड, बिरहोर, खोंड, कोरबा, लोहरा
महाराष्ट्रभील, गोंड, अगरिया, असुरा, भारिया, कोया, वर्ली, कोली, डुका बैगा, गडावास, कामर, खडिया, खोंडा, कोल, कोलम, कोर्कू, कोरबा, मुंडा, उरांव, प्रधान, बघरी
झारखण्डसंथाल, असुर, बैगा, बंजारा, बिरहोर, गोंड, हो, खरिया, खोंड, मुंडा, कोरवा, भूमिज, मल पहाड़िया, सोरिया पहाड़िया, बिझिया, चेरू लोहरा, उरांव, खरवार, कोल, भील
हिमाचल प्रदेशगद्दी, गुर्जर, लाहौल, लांबा, पंगवाला, किन्नौरी, बकरायल
त्रिपुरालुशाई, माग, हलम, खशिया, भूटिया, मुंडा, संथाल, भील, जमनिया, रियांग, उचाई
कश्मीरगुर्जर
अंडमान-निकोबार द्वीप समूहऔंगी आरबा, उत्तरी सेन्टीनली, अंडमानी, निकोबारी, शोपान
केरलकडार, इरुला, मुथुवन, कनिक्कर, मलनकुरावन, मलरारायन, मलावेतन, मलायन, मन्नान, उल्लातन, यूराली, विशावन, अर्नादन, कहुर्नाकन, कोरागा, कोटा, कुरियियान, कुरुमान, पनियां, पुलायन मल्लार, कुरुम्बा
कर्नाटकगौडालू, हक्की, पिक्की, इरुगा, जेनु, कुरुव, मलाईकुड, भील, गोंड, टोडा, वर्ली, चेन्चू, कोया, अनार्दन, येरवा, होलेया, कोरमा
मणिपुरकुकी, अंगामी, मिजो, पुरुम, सीमा
मेघालयखासी, जयन्तिया, गारो
पंजाबगद्दी, स्वागंला, भोट
भारत की प्रमुख जातियां

तो जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं कि भारत के प्रमुख जाति कौन-कौन हैं और कौन से राज्य में कौन सी जनजाति है तो आप लोगों को बता दें कि हिमाचल प्रदेश में आप लोगों को गद्दी गुर्जर लाहौल अंबाला के लिए मिलेंगे त्रिपुरा में आप लोगों को भुटिया ऊंचाई देखने के लिए मिलेंगे कश्मीर में आप लोग गुर्जर देखने के लिए मिलेंगे और आप लोगों को बता दें कि पंजाब में आप लोगों को देखने के लिए मिलेंगे और मेघालय में खासी जयंतिया देखने के लिए मिलेंगे मणिपुर में की आगामी सीमा देखने के लिए मिलेंगे और आप लोगों को बता दें कि गुजरात में आप लोगों को देखने के लिए मिलेंगे को लगा कटवा लिया था बादलिया और आप लोगों को देखने के लिए मिलेंगे कोटा का पूरा देखने के लिए पूरी डिटेल जानकारी प्राप्त करने के लिए आप लोग उपरोक्त टेबल के माध्यम से बहुत ही आसानी से इंफॉर्मेशन प्राप्त कर सकते हैं

भारत में सबसे ज्यादा किस जाति के लोग रहते हैं

यादव को काबू कैसे रखें | Yadav ko kaaboo kaise rakhen

यादव को काबू कैसे रखें इसके बारे में आज हम आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं अपने इस पोस्ट के माध्यम से और आप लोगों को बताने वाले की यादव किस राज्य में अधिक है तो व्यवस्था एक पृष्ठभूमि स्थान पर सामाजिक विषय यादव ज्यादातर उत्तरी भारत में रहते हैं और विशेष रूप से हरियाणा उत्तर प्रदेश और बिहार में परंपरागत रूप से यादव कुलीन देहाती जाते थे और यादव प्रसिद्ध राजा कौन थे यादव के तो आप लोगों को बता दें कि सिंघाना देती है यादव वंश के सबसे महान शासक था 1317 में खिलजी सल्तनत ने इस राज्य पर कब्जा कर लिया और कई वर्ष बाद तुगलक वंश के मोहम्मद तुगलक ने शहर का नाम दौलताबाद रखा और यादों के कुल देवता कौन है अगर आप लोगों को बता दें कि यादव के कुलदेवता सांसदों की कुल देवी आदि शक्ति मां भवानी की योग माया माया माया ने बाबा वासुदेव के चचेरे भाई बाबा नंद राय के यहां उनकी पुत्री के रूप में अवतार लिया था इन्हीं मां जोगमाया का जब दृष्ट कंस ने मारने की कोशिश करें थी तब आज तक ने अपना विकराल रूप से दिखाया था

  • यादव से शांति से बात करें
  • धार्मिक बातें करें
  • ऐतिहासिक बातें करें
  • यादव से झूठ ना बोले
  • यादव को सम्मान दें
  • यादव को कभी धोखा ना दे
  • साधारण तरीके से रहे
  • यादव से शहजादा से बात करें
  • यादव के सामने घमंड ना करें
  • यादव से बात ना छिपाएं

यादव को काबू कैसे रखें इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि यादव से शहजादा से बात करें यादों को सामने घमंड ना करें यादों से बात छुपाए और आप लोगों को बताने वाले हैं कि यादों से झूठ ना बोले और आप लोगों को बताने वाले हैं कि यादव राजपूत में क्या अंतर होता है पंजाब और गुजरात में अहीर गोवा और महाराष्ट्र में ग्वालियर दक्षिण भारत में बात करें तो कर्नाटक और आंध्रप्रदेश में गला तमिलनाड में कनेर और केरल मनियर में नाम से जाने जाते हैं महाभारत में यादव कौन थे यादों का संबंध जातियों से युक्त एक श्रेणी है जो भारत की कुल जनसंख्या के लगभग 20% नेपाल के 20% जनसंख्या और ग्रह पृथ्वी के लगभग 3% जनसंख्या की गठन करती है

सबसे पहले जाति कौन सी है | Sabase pahale jaati kaun see hai

सबसे पहले जाति कौन सी है तो आप लोगों को बता दें कि हिंदू तिथि मानते हैं कि भारतीय सभ्यता उन से निकली है जो खुद को आर्य कहते थे या घुड़सवारी वर्क करने वाले और पशुपालन करने वाले योद्धाओं तथा चरवाहों की एक घुमंतू जनजाति की जिन्होंने हिंदू धर्म के सबसे प्राचीन धार्मिक ग्रंथों यानी वेदों की रचना की थी और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि पहला समूह योद्धाओं का था और उन्हें राजन ने कहा जाता था बाद में उन्होंने इसका नाम बदलकर छत्रिय कर दिया दूसरा समूह पुजारियों का था वह ब्राह्मण कहलाते थे समूहों ने आर्यों के बीच नेतृत्व के लिए राजनीतिक रूप से संघर्ष भी किया

भारत के मूल निवासी कौन है | Bhaarat ke mool nivaasee kaun hai

तो आप लोगों को बताने वाले हैं कि भारत के मूल निवासी कौन हैं तो यदि हम मूलनिवासी की बात करें तो धरती के सभी मनुष्य आफ्रिकन या दक्षिण भारतीय हैं 35000 पूर्व से मानव अफ्रीका से निकलकर मध्य एशिया और यूरोप में जाकर बसे हैं यूरोप से होता हुआ मनुष्य चीन पहुंचा और महा सेवा पुणे भारत के पूर्वोत्तर हिस्सों में दाखिल होते हुए पुनः दक्षिण भारत पहुंच गया और जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि मूलनिवासी किसी भी क्षेत्र किसी भी देश में रह रहे वह लोग जो बहुत पहले से वाह उनके पूर्वज वहां पर रहकर अपना जीवन यापन करते आए हो वहां के मूल निवासी कहलाते हैं ऐसे माना जाता है कि पृथ्वी के जिस हिस्से पर जो पहले से रहता आया है वह उस जगह के मूल निवासी कहलाता है

आदिवासी और मूलनिवासी में क्या अंतर है | Aadivaasee aur moolanivaasee mein kya antar hai

आदिवासी और मूल निवासी में क्या अंतर है इसके बारे में आप लोगों को पूरी जानकारी देने वाले हैं तो आप लोगों को बता दें कि बीपीएल छेत्र में अंडमान निकोबार आधे जा रहा उनके ग्रेट अंडमानी स्टेनलेस सोम प्रिंस और भुजा का 8 जातियां प्रमुख है इनमें से कुछ जातियां जैसे लैपटॉप होती आधे उत्तरी भारत के जातियां मंगोला जाति में संबंध रखते हैं और आप लोगों को बता दें कि दूसरी और केरल कर्नाटक और द्वितीय क्षेत्र की कुछ जातियां नीग्रो प्रजात से संबंध रखती हैं आदिवासी और मूलनिवासी में क्या अंतर है इसके बारे में आप लोगों को बताने वाले हैं भारतीय संविधान में आदिवासियों के लिए अनुसूचित जनजाति पद का उपयोग किया गया भारत के प्रमुख आदिवासी समुदायों जैसे खंडवा खड़िया बोलो कॉल भील गोली सहरिया संसार मिलान मीणा टकराना दी है इनका कहना है कि देश में जिन लोगों के मूल निवास प्रमाण पत्र बने हैं वह सब भारत के मूल निवासी हैं अर्थात ब्राह्मण क्षत्रिय वैश्य और शुद्र तथा धार्मिक अल्पसंख्यक सभी भारत के मूल निवासी हैं दूसरी तरफ इनका कहना है आदिवासी ही केवल भारत के मूल निवासी हैं

भारत का मूल धर्म क्या है | Bhaarat ka mool dharm kya hai

तो आप लोगों को बताने वाले हैं कि भारत का मूल धर्म क्या है तो सुंदर राजन के अनुसार हिंदू धर्म को वैदिक धर्म के रूप से भी जाना जाता है बहुत सारे लेखकों का कहना है कि वेदों में हिंदू धर्म के बारे में मौलिक के सत्य शामिल हैं जिन्हें प्राचीन वैदिक धर्म के आधुनिक संस्करण कहा जाता है आर्य समाज वैदिक धर्म को सच्चे हिंदू के रूप में मान्यता देते हैं और जानकारी के लिए आप लोगों को बताने वाले हैं कि भारत ना केवल अधिकार से हिंदू 77 वर्ष के क्रम में विश्वास करते हैं बल्कि उतने ही प्रतिशत मुसलमान भी कर्म में विश्वास करते हैं यह क्या सी प्रतिशत हिंदुओं के साथ भारत में एक तिहाई साई 32% कहते हैं कि वह गंगा नदी को पवित्रता में शक्ति में विश्वास करते हैं जो कि हिंदू धर्म की प्रमुख विश्वास हैं हिंदू धर्म भारत का सबसे बड़ा और मॉल धार्मिक के समूह है और भारत की 79.8% जनसंख्या 96.8 करोड़ है इस धर्म के अनुयाई हैं

निष्कर्ष|| Nishkarsh

जानकारी के लिए आप लोगों को बता दें कि उपरोक्त पोस्ट और लिस्ट माध्यम से हम आप लोगों को यही जानकारी प्रदान करें कि भारत में सबसे ज्यादा किस जाति के लोग रहते हैं और भारत में जातियों की संख्या कितनी है और भारत में कौन सी जात कितने प्रतिशत रहते हैं और हिंदू में कौन सी जाति सबसे ज्यादा है तो आप लोगों को बता दें कि हिंदू धर्म में भारत का सबसे बड़ा और माल देख धर्म है भारत की एक से अधिक जनसंख्या का धर्म अनुवाई है और भारत में जातियों की संख्या कितनी है भारत के सबसे पुरानी जाति कौन है और उत्तर प्रदेश के सबसे ज्यादा जनसंख्या किस जाति की है तो उत्तर प्रदेश में अनुसूचित जाति की जनसंख्या सबसे अधिक है जबकि अनुसूचित जनजाति संख्या कुल जनसंख्या 1% से भी कम है भारत में ओबीसी की जनसंख्या कितनी है तो जनगणना के विभाग द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट को देखने से पता चलता है कि सन 1931 में अंतिम बार और तत्कालीन रियासत ग्वालियर में सन 1941 में अंतिम बार जांच के आधार पर जनगणना की गई थी उसके पश्चात 1951 1961 तथा 1981 में अनुसूचित जाति एवं जनजाति को छोड़कर जात पर आधार पर नहीं हुई है और आप लोगों को बताया गया है कि यादव को कैसे काबू में कर सकते हैं सबसे पहले जाति कौन सी है और भारत के मूल निवासी कौन हैं आदिवासी और मूल निवासी किसे कहते हैं तो आप लोगों को बता दें कि हम आप लोगों को जो भी डाटा देते हैं इंटरनेट के माध्यम से देते हैं हम आप लोगों को कोई गलत इंफॉर्मेशन नहीं दे रहे हैं और आप लोगों को बता दें कि इस की पूरी डिटेल जानकारी प्राप्त करने के लिए कि भारत में सबसे अधिक कौन सी जात है जात के बारे में आप लोगों को पूरी इंफॉर्मेशन जानना चाहते हैं तो आप लोग उपरोक्त पोस्ट और लिस्ट के माध्यम से बहुत ही आसानी से इंफॉर्मेशन प्राप्त कर सकते हैं

Sharing Is Caring:

Leave a Comment