इतिहास का जनक किसे कहा जाता है? || Itihaas Ka Janak Kise Kaha Jaata Hai|| इतिहास का परिभाषा और अर्थ

इतिहास का जनक किसे कहा जाता है? : नमस्कार दोस्तों आज मेरी इस वेबसाइट में आने के लिए आप लोगों को बहुत-बहुत धन्यवाद आज हम आप सभी लोगों को अपने इस पोस्ट के माध्यम से आप लोगों को या जानकारी देने वाले हैं कि इतिहास का जनक किसे कहते हैं तथा इतिहास का क्या अर्थ है और इतिहास की परिभाषा क्या है इतिहास का जन्म कब और कहां हुआ था इतिहास के जनक किसे कहा जाता है तथा आधुनिक इतिहास के जनक कौन हैं राजस्थान इतिहास के जनक कौन थे और इतिहास के पिता का क्या नाम है इतिहास कितने प्रकार के होते हैं इतिहास में अंग्रेजी में क्या कहते हैं इतिहास की उत्पत्ति कैसे हुई है तो आज हम आप लोगों को यहां पर इन सभी के बारे में सारी चर्चाएं करेंगे जो कि आप लोगों को हम यहां पर इसकी सारी जानकारी को एक-एक करके बताएंगे जो आप लोगों को बता दें कि इसमें जो जानकारी हम आप लोगों को यहां पर बताएंगे वह सभी पूरी और अच्छी तरीके से बताने का प्रयास करेंगे जिससे कि आप लोग इसके बारे में सारी जानकारी को अच्छी तरीके से जान सके तो मैं आप लोगों को बता दूं कि अगर आप लोग इतिहासिक से संबंधित सभी जानकारी को प्राप्त करना चाहते हैं तो आज हम आप लोग को यहां पर इसके बारे में सारी चर्चा करेंगे और चर्चा के माध्यम से आप लोगों को एक-एक करके इसके सारी जानकारी को बताएंगे जो कि आप लोग को हम बता दें कि अगर आप लोग उसकी सारी जानकारी को प्राप्त कर लेते हैं तो आप लोग अपने प्रतियोगी परीक्षाओं में भी भाग ले सकते हैं जो कि आप लोगों को यह क्वेश्चन भी प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पूछा जाता है तो आज हम आप लोगों के यहां पर इन सभी के बारे में सारी चर्चा करेंगे और आप लोग को हम यहां पर इसकी सारी जानकारी को बताने का प्रयास करेंगे तो आप लोग जरूर से हमारे साथ जुड़े रहे जिससे कि आप लोग इस की सारी जानकारियों को आप लोग अच्छी तरीके से जान सके

तो हम आप सभी लोगों को या जानकारी बता दे कि इतिहास का जनक किसे कहा जाता है जो कि आप लोगों को या जानकारी जानकर बेहद खुशी होगी यह तो बता दे कि हेरोडोटस जिसे इतिहास का पिता के रूप में माना जाता है जो कि हम अपनों को बता दें कि इतिहास को अंग्रेजी में हिस्ट्री के नाम से जानते हैं और मैं आप लोग को बता दें कि उन्हें हिस्ट्री शब्द की परिभाषा दुनिया को बतलाई थी

Table of Contents

इतिहास का क्या अर्थ है || Itihaas ka kya arth hai

अब हम आप सभी लोगों को इतिहास का अर्थ क्या है जो कि आज आप लोग इसके बारे में सारी जानकारी को हम यहां पर बताएंगे जो तो बता दे कि इतिहास वक्त का समाज देश की महत्वपूर्ण विशिष्ट एवं सार्वजनिक क्षेत्र की घटनाओं का कार्यक्रम से लिखा हुआ विवरण पाठ्य घटनाओं का कॉल करना अनुसार विवेचना किया जाता है दोस्तों बता दे की हिस्ट्री जो बहुत ही ज्यादा माना जाने वाला शब्द है और इतिहास के हम अर्थ की बात करें तो बता दे कि इतिहास शब्द 3 संस्कृत शब्दों से मिलकर बना है इतिहास अतीत में घटित घटनाओं का विरोध है अगल-बगल शब्द हिस्ट्री जो ग्रीक शब्द हिस्टोरिया से लिया गया था और मैं आप लोग को बता दी जिसका अर्थ है वास्तविक रूप से घटित होने वाला तथ्य है और आप लोग बता दें कि सामान्यतया इतिहासकार द्वारा अतीत की घटनाओं का गहन अध्ययन करने की मानदेय व मस्तिष्क को समझना ही इतिहास है

आधुनिक विद्वानों के मुताबिक एक अच्छे इतिहास की मान्यताएं हैं एक तो सर इसमें सर्वजनिक घटनाओं का लोड होता है इतिहास में व्यक्तिगत जीवन की संबंधित घटनाओं का उल्लेख नहीं होता है दूसरे वर्णित घटनाओं को कर्म पद्धति है तीसरे इतिहासकार एक सच्चे वैज्ञानिक की तरह घटनाओं को अपूर्ण अथवा विकृत रूप से प्रसिद्ध नहीं करते हैं उन्हें घटना का जैसा का तैसा और संपूर्ण रूप से प्रस्तुत करना है कार्य आप अपने इतिहास के संबंध में लिखा है कि इतिहास का कोई अर्थ नहीं होता है क्योंकि इतिहास का कोई लक्ष्य नहीं है आप हम अपने लक्ष्यों को इस तरह पर आरोपित करते हैं वास्तव में इतिहास तो जो बीत चुका है उसका नाम है लेकिन यह अतीत मृत नहीं होता प्रत्येक वर्तमान अतीत को अपने अंदर जीवित रखता है या वर्तमान अतीत को किस रूप में अपने अंदर जीवित रखता है या अतीत को अर्थ प्रदान करता है इतिहास याद करने की वस्तु है इससे प्रेरित होने का अर्थ होगा कि हम पीछे की ओर जा रहे हैं

इतिहास की परिभाषा क्या है? || Itihaas kee paribhaasha kya hai

तो अब हम आप सभी लोगों को इतिहास की परिभाषा क्या है जो कि आप लोगों को यहां पर इसकी परिभाषा के बारे में सारी जानकारी को मिलेगी उसे बता दें कि इतिहास माननीय सामाजिक जीवन का वर्णन है इसका उद्देश्य सामाजिक परिवर्तनों को प्रभावित करने वाले उन सक्रिय विचारों का अन्वेषण है जो समाज के विकास में बाधक अथवा सहायक सिद्ध हुए हैं इन सभी तथ्यों का उल्लेख इतिहास में होना चाहिए

प्रोफ़ेसर घाटे के अनुसार– इतिहास मानव जाति के भूत का वैज्ञानिक लेखा-जोखा है

हेनरी जॉनसन के अनुसार– इतिहास मानव जाति के भूत का वैज्ञानिक लेखा-जोखा है

जी.आर.अल्टरन– इतिहास की परिभाषा अतीत तथा वर्तमान के बीच क्षेत्र के रूप में करते हैं

दोस्तों इस तरह से हम आप सभी लोगों को इतिहास की परिभाषा आप लोग को बताया और बता दे कि इतिहास की परिभाषा के अनुसार बहुत सारे लोगों ने अपने अपने विचारों को रखा है कि इतिहास क्या है जो कि आप लोगों को हमने कुछ महान व्यक्ति के अनुसार हमने इतिहास की पूरी परिभाषा बताया है जो कि हम आप लोग बता दें कि ऐसे व्यक्ति ने अपने अपने विचारों को इतिहास पर पूरा परिभाषा और फोकस देते हुए अपने मतों को बताया है जो कि हमने भी आप लोगों को इसकी जानकारी को यहां पर देने का प्रयास किया है तो आशा करते हैं कि आप लोगों को हमारी यह जानकारी बहुत ही अच्छी लगी होगी

इतिहास का जन्म कब हुआ? || Itihaas ka janm kab hua

अब हम आप सभी लोगों को इतिहास का जन्म कब हुआ था जो कि आप लोगों को या जानकारी जानकर बेहद खुशी हो रही होगी और आप लोगों को यह जानकारी बहुत ही आवश्यक है और मैं आप लोगों को बता दूं कि अंग्रेजों के सत्तासीन होने के उपरांत मेरठ एक बड़ा सेना का केंद्र रहा है जो कि यह 10 मई अट्ठारह सौ सत्तावन ईसवी में अंग्रेजी शासन के खिलाफ ब्रिटिश सेना के भारतीय जवानों द्वारा विद्रोह यहीं से आरंभ हुआ था उन्होंने मेरठ शहर पर एक दिन में ही नियंत्रण कर लिया था तथा दिल्ली के लाल किले की और वूᆬच कर दिया जो कि संपूर्ण भारत पर नियंत्रण का घातक और मैं आप लोग को यहां पर इसके बारे में जानकारी को बताते हैं या बता दे कि इतिहास का जन्म ब्रिटिश के शासनकाल में ही इसका उद्भव हुआ था जो कि आप लोगों को बता दें कि इतिहासिक बातों को हम जब याद करते हैं तो दोस्तों बता दे कि यह जानकारी बहुत ही अच्छी होती है क्योंकि दोस्तों यह जानकारी जानना बहुत ही आवश्यक है क्योंकि यह जानकारी को प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पूछा जाता है

इतिहास का जनक किसे कहा जाता है? / Itihaas ka janak kise kaha jaata hai

तो मैं आप सभी लोगों को जहां पर यह जानकारी बताने वाला हूं कि इतिहास का जनक किसे कहा जाता है जो कि आप लोगों को या जानकारी जानना बहुत ही आवश्यक है तो आज हम आप लोगों को यहां पर इसके बारे में सारी चर्चा करेंगे और आप लोगों को बताएंगे कि इतिहास का जनक कौन है तो बता दे कि इतिहास जो है वह तीन से मिलकर बना हुआ है जो कि मैं आप लोगों को बता दूं कि पश्चिमी जो ग्रुप शब्द हिस्टोरिया से लिया गया है जिसका अर्थ है वास्तविक रूप से घटित होने वाले पात्र हैं और मैं आप लोग बता दे कि सामान्यता इतिहासकार द्वारा अतीत की घटनाओं का गहन अध्ययन करने की मानवीय मस्तिष्क को समझना ही इतिहास है इतिहास का जनक हेरोडोटस को कहा जाता है जो कि मैं अशोक बता दूं कि इतिहास को अंग्रेजी में हिस्ट्री के नाम से जानते हैं और इतिहास की खोज इन्होंने बहुत ही अच्छी तरीके से किया है जो कि आप लोग बता दें कि इतिहास के जनक के रूप में आप लोगों को हेरोडोटस को माना जाता है

आधुनिक इतिहास के जनक कौन हैं? || Aadhunik itihaas ke janak kaun hain

मामा आप सभी लोगों को आधुनिक इतिहास के जनक कौन है जो कि हम आप लोगों को इनके बारे में भी सारी जानकारी को बताएंगे दोस्तों बता दे कि वोलटेयिर जेपी आधुनिक इतिहास के जनक माने जाते हैं जो कि मैं आपको बता दें कि इन्होंने आधुनिक इतिहास का जनक इन्हें पूरी तरीके से माना गया है तो बता दे कि आधुनिक इतिहास के पिता भी कहते हैं और आज के बाद एक उत्तर वैदिक प्रधान मध्यकालीन एवं आधुनिक इतिहास में विभाजित किया गया है इतिहास को बीते हुए घटनाओं का संकलन को कहते हैं इतिहास का जनक वाल्ट एरियर जेपी को कहा जाता है जो कि हम बता दें कि ग्रुप वासी आर्य वंशी भारत की सभ्यता सर्वाधिक प्राचीन नहीं है भारत के आज मानव जंगली और मांसाहारी थे भारत के ऐतिहासिक सामाजिक का अभाव भारत भारत के राज्य वंश के अंतर्गत नानी को का चयन रोड कोटाछी चंद्रगुप्त मौर्य हैं भारतीय कालगणना अंतरा जीत और अब आज्ञा निक भारत कभी एक राष्ट्र के रूप में नहीं रहा ही नहीं अंग्रेजों ने एक छात्र शासन किया था

राजस्थान इतिहास के जनक कौन है || Raajasthaan itihaas ke janak kaun hai

मैं आप लोगों को बता दें कि राजस्थान इतिहास के जनक  कर्नल जेम्सहाडॅ  को कहा जाता है जो कि मैं 1818 में और 1821 के मध्य मेवाड़ जो उदयपुर में स्थित है और उन्होंने पोलिटिकल एजेंट थे उन्होंने घोड़े पर धूम धूम धूम कर राजस्थान के इतिहास को लिखा और बता दें कि तीनों ने बहुत ही ज्यादा अपना योगदान इस राजस्थान में उन्होंने अपना अहम भूमिका निभाया है और वह तो बता दे कि कर्नल जेम्स टॉड को राजस्थान का ऐतिहासिक पिता कहा जाता है और आप लोगों को बता दें कि इनका जो कहानी है वह बहुत ही अच्छा है जो कि आप लोगों को जानकर बहुत खुशी होगी जब आप लोग इनकी पूरी जानकारी को प्राप्त करेंगे तो तो मैं आप लोगों को बता दूं कि राजस्थान के जनक कर्नल जेम्सहाडॅ  जो कि बहुत ही अच्छे और होनहार व्यक्ति थे उन्होंने बहुत सारे सेनानियों से मुकाबला किया और जाकर के यह राजस्थान के इतिहास के जनक माने गए

इतिहास में कितने काल है?|| Itihaas mein kitane kaal hai

तो हम आप सभी लोगों को यहां पर या जानकारी देने वाले हैं कि इतिहास में कितने काल होते हैं जो कि आप लोगों को बता दें कि इतिहास को विद्यालय में स्कूल में या फिर कॉलेज में पढ़ा होगा कि लेकिन आपको यह पता है हमारे इतिहासकारों ने इतिहास को कितने भागों में बांटा है अगर नहीं जानते हैं तो इस पोस्ट के माध्यम से आप लोग इसकी पूरी जानकारी को जान सकते हैं देश के बता दे कि इतिहास को बांटा गया है तीन भागों में बता दे कि इतिहासकारों ने इतिहास को तीन भागों में पूरी तरीके से बांटा है जो इस प्रकार से हैं

  • प्राचीन काल इतिहास
  • मध्यकालीन इतिहास
  • आधुनिक इतिहास

तुम तरफ से आप लोगों को हमने या बताया कि इतिहास में कितने काल होते हैं जो कि आप लोग को मालूम हो गया होगा कि प्राचीन काल और मध्यकालीन इतिहास तथा आधुनिक इतिहास यह सभी इतिहास के भाग हैं जो कि हम अपनों को बता दें कि इसमें आप लोगों को बहुत सारे जानकारी आप लोगों को मिलेगा अगर आप लोग इसकी अलग-अलग जानकारी को प्राप्त करेंगे तो मैं आप लोगों को बता दूं कि इसकी सारी विस्तार से जानकारी को आप लोग पूरी तरीके से जान सकते हैं

इतिहास कितने प्रकार के होते हैं?|| Itihaas kitane prakaar ke hote hain

अब हम आप सभी लोगों को इतिहास कितने प्रकार के होते हैं जो कि हम आप लोगों को यहां पर भी इसके बारे में सारी जानकारी को बताएंगे दोस्त बता दे कि था उसको कई नामों से भी जाना जाता है जो कि आप लोगों को हम यहां पर उसके प्रकार के बारे में पूरी जानकारी को बताएंगे वह तो बता दे किस टाइम में इतिहास तथा धर्म का इतिहास सामाजिक इतिहास सांस्कृतिक इतिहास राजनैतिक इतिहास आर्थिक इतिहास पर्यावरण इतिहास और विश्व इतिहास यह सभी इतिहास के प्रकार हैं और हम बात करें इनके पूरी जानकारी को तो बता दे कि इसकी पूरी जानकारी को जानकर आप लोगों को बहुत ही अच्छा ज्ञान मिलेगा और आप लोग इसकी पूरी प्राचीन इतिहास और अन्य सारी इतिहास की पूरी जानकारी को आप लोग जान सकते हैं और मैं आप लोगों को अब उसके लिस्ट के माध्यम से भी आप लोग को इसके प्रकार के बारे में आप लोग को बताएंगे जो इतिहास के प्रकार इस प्रकार से हैं

  • सैन्य इतिहास
  • धर्म का इतिहास
  • सामाजिक इतिहास
  • सांस्कृतिक इतिहास
  • राजनैतिक इतिहास
  • आर्थिक इतिहास
  • पर्यावरण इतिहास
  • विश्व इतिहास

दोस्तों हमने आप सभी लोगों को इतिहास के प्रकार के बारे में हम आप लोगों को सारी जानकारी को बताया है कि या कितने प्रकार के होते हैं इन सभी की पूरी जानकारी को हमने एक लिस्ट के माध्यम से बताया है

इतिहास का जनक किसे कहा जाता है

इतिहास को अंग्रेजी में क्या कहते हैं? || Itihaas ko angrejee mein kya kahate hain

अब हम आप सभी लोगों को हम यह जानकारी देने वाले हैं कि इतिहास को हम अंग्रेजी में क्या कहते हैं जो कि आप लोगों को यह जानकारी जानना बहुत ही आवश्यक है क्योंकि दोस्तों यह जानकारी आप लोग को प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछा जाता है तो आज हम आप लोगों को यहां पर या जानकारी बताएंगे कि इतिहास को अंग्रेजी में हिस्ट्री(history) कहा जाता है और आप लोगों को हम बता दें कि यह हिस्टोरिया नामक जो ग्रीक शब्द से लिया गया है और मैं आप लोग को बता दूं कि इस ग्रीक शब्द से इतिहास की उत्पत्ति हुई है जो कि आप लोगों को बता दें कि इतिहास का नाम जो आप लोगों को मालूम हुआ है कि अंग्रेजी में इसे हिस्ट्री के नाम से जाना जाता है और आप लोगों को यह जानकारी बहुत ही अच्छी लगी होगी

इतिहास की उत्पत्ति कैसे हुई? || Itihaas kee utpatti kaise huee

अब हम आप सभी लोगों को इतिहास की उत्पत्ति कैसे हुई आप लोगों को यहां पर इसकी सारी जानकारी को हम बताएंगे दोस्तों बता दे कि इतिहास की उत्पत्ति देखा जाए तो बहुत ही प्राचीन काल से हुआ है जो कि आप लोगों को यह जानकर बहुत ही हैरानी होगी तो मैं आप लोगों को बता देती है नहीं कि जानसन का विचार है कि इतिहास विस्तृत रूप से प्रत्येक घटना है जो कि सभी घटित हुई इसी प्रकार वह स्वयं अतीत काल से संबंधित है अर्थात भूतकाल इन घटनाओं का उल्लेख की इतिहास है जिसका अर्थ यह है कि उसमें प्राचीन काल से लेकर के एक क्षण पहले उस पर समाप्त हुए समय तक की घटनाओं का वर्णन आ जाना चाहिए तो इस प्रकार से इतिहास की उत्पत्ति हेनरी जॉनसन के अनुसार हुआ था और आप लोगों को हम बता दें कि इसकी पूरी विस्तार से वर्णन किया जाए तो आप लोग को बहुत ही ज्यादा नॉलेज मिलेगा लेकिन इसकी जानकारी को आप लोग जान सकते हैं पुस्तकों के माध्यम से और अपने अध्यापकों के माध्यम से तो आप लोगों ने अगर पढ़ा होगा तो यह जाना होगा कि इतिहास का प्राचीन जो उद्भव हुआ था वह बहुत प्राचीन काल से हुआ था

प्राचीन इतिहास कब से कब तक है? || Praacheen itihaas kab se kab tak hai

वह तो हम आप सभी लोगों को यहां पर या जानकारी देने वाले हैं कि प्राचीन इतिहास कब से कब तक स्टार्ट होता है जो कि हम अपनों को यहां पर इसके बारे में सारी जानकारी को बताएंगे तो तू बता दे कि प्राचीन इतिहास भैंस के बारे में या जानकारी मिलती है कि भारत में मानव जीवन का प्राचीनतम प्रमाण 10000 से 8000 वर्ष पूर्व का है और बता दे कि पाषाण युग जो भीमबेटका और मध्य प्रदेश के बीच में है मैं आप लोग को बता दूं की चट्टानों और चित्रों का कार्यक्रम 40 1000 से 1000 तक माना जाता है प्रथम स्थाई बस्तियों में ने उसे 1000 वर्ष से पूर्व स्वरूप लिया था और इस तरह से आप लोग को बता दें कि प्राचीन इतिहास का हुआ था और मैं आपको बता दूं कि प्राचीन इतिहास को आप लोगों को यह पूरी तरीके से मिल गया होगा फिर प्राचीन इतिहास का यह पूरा ज्ञान है

इतिहास का क्षेत्र क्या है? || Itihaas ka kshetr kya hai

दोस्तों मैं आप सभी लोगों को बता दो कि इतिहास का क्षेत्र क्या है जो कि आप लोगों को यह जानकारी जानकर बहुत ही ज्यादा आनंद मिलेगा तो तू बता दे कि इतिहास का क्षेत्र बड़ा व्यापक है और प्रत्येक भर्ती विषय अन्वेषण आंदोलन आज का इतिहास होता है और यहां तक कि इतिहास का भी इतिहास होता है या कहा जाता है कि दार्शनिक वैज्ञानिक आदि अन्य दृष्टिकोण की तरह ऐतिहासिक दृष्टिकोण की अपनी निजी विशेषता है क्या का क्षेत्र का सीमा आंकलन विभिन्न विद्वानों ने अपने-अपने ढंग से आ करने का प्रयत्न किया है इतिहास का क्षेत्र मानव चिंतन का क्षेत्र है मानदेय कार्यक्रमों तथा उपलब्धियों पर प्राकृतिक का अध्ययन इतिहास की सीमा में नहीं आता है तो फिर सरकार ने इतिहास के क्षेत्र को विज्ञान की भांति डिस्ट्रिक्ट बताया जिसमें तत्वों की व्याख्या अपेक्षित है डॉ आर सी मजूमदार इतिहास के क्षेत्र को सत्यान्वेषण तक सीमित करते हैं और पर इतिहास के क्षेत्र के स्वरूप को समझने हेतु या बहुत जरूरी हो जाता है कि इतिहास के क्षेत्र के प्रमुख निर्धारक तत्वों का अध्ययन किया जाए

इतिहास में किसका महत्व होता है? || Itihaas mein kisaka mahatv hota hai

आप सभी लोगों को इतिहास का महत्व क्या होता है इसके बारे में हम आप लोगों को सारी विस्तार से जानकारी को बताएंगे दोस्तों बता दे कि इतिहास जो बहुत ही ज्यादा इसका महत्व है और प्राचीन काल से आने वाले काल तक इसकी पूरी महत्त्व हमें देखने को मिलती है तो हम आप लोग को यहां पर यह जानकारी बता दें कि यह शब्द अतीत के बारे में हमारे विचारों को दर्शाते हैं और मैं आप लोग को बता दूं कि हमें बताते हैं कि एक अवध से दूसरी अवधि से आए बदलाव का क्या महत्व होता है इसकी पूरी जानकारी को हम आप लोग को यहां पर बताया है जो कि हम अपनों को बता दें कि प्राचीन इतिहास की बात करें तो इतिहास का अर्थ है सुंदर अतीत की घटनाओं को लिखित रिकॉर्ड क्लास में सास को उनके शासन और उनके साथ प्रशासन आज के बारे में पढ़ते हैं हम उनके समय के दौरान लोगों को आर्थिक सामाजिक और सांस्कृतिक जीवन के बारे में भी पढ़ते हैं आप सोच रहे होंगे कि उसे अतीत के बारे में अध्ययन करना चाहिए जिसके पास एक है हम वर्तमान में क्यों नहीं रहते हैं लेकिन क्या वर्तमान अतीत से जुड़ा नहीं है उनके परिवार में भी अतीत का वर्तमान से बोलने वाला एक परिवारिक इतिहास है आपके पास आपके दादा-दादी फिर उसके माता पिता और उसके भाई बहन और आप हैं इस प्रकार से जीवन अतीत वर्तमान और भविष्य की एक अखंड बिना अतीत का वर्णन किया है विनाश विनाश जानकारी के वर्तमान को कैसे समझ सकते हैं इतिहास का अध्ययन करने से हमें अपने देश और दुनिया के बारे में पता चलता है

निष्कर्ष || Nishkarsh

दोस्तों हमने आप सभी लोगों को अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आप लोगों को प्राचीन इतिहास तथा आधुनिक इतिहास और इसकी उत्पत्ति कैसे हुई और कब हुई इसके बारे में हमने सारी विस्तार से जानकारी को बहुत ही अच्छी तरीके से बताया है और आप लोग को हमारी एक ही पोस्ट के माध्यम से तथा कुछ लिस्ट के माध्यम से हमने इतिहास से संबंधित सारी जानकारी को अच्छे ढंग से बताने का प्रयास किया है और आशा करते हैं कि आप लोगों को हमारी यह जानकारी बहुत ही अच्छी लगी होगी तो मैं आप लोगों को बता दें कि इतिहास से जुड़ी सारी जानकारी को हमने यहां पर आप लोगों को बताया है जो आपको बहुत ही अच्छा जानकारी मिला होगा तो अगर आपको किस में कोई भी दिक्कत है या कोई भी जानकारी आप लोगों को अधूरी लगती है तो आप लोग हमें कमेंट में लिख कर बता सकते हैं जो कि हम आप लोगों को आप अच्छे से अच्छे जानकारी देने में सक्षम रहें

इतिहास का जनक किसे कहा जाता है इतिहास का जनक किसे कहा जाता है Video

Sharing Is Caring:

Leave a Comment